सीरिया के संघर्ष में '1,91,000 की मौत'

सीरिया में संघर्ष इमेज कॉपीरइट AFP

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार एजेंसी की प्रमुख कहा है कि सीरिया के संघर्ष में अप्रैल तक 1,91,000 लोगों से भी ज़्यादा की मौत हो चुकी है.

नवी पिल्लै ने कहा कि ये आंकड़े 'शायद एक अनुमान' हों. उन्होंने इस मुद्दे पर 'अंतरराष्ट्रीय अकर्मण्यता' की आलोचना भी की.

ये आंकड़े साल भर पहले संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी अनुमान के दोगुने से भी ज़्यादा हैं.

सीरिया में विद्रोही गुट राष्ट्रपति बशर अल असद की सत्ता के खिलाफ तीन सालों से भी ज़्यादा अर्से से संघर्ष कर रहे हैं लेकिन हाल के महीनों में उनकी ताकत कमजोर पड़ी है.

संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी की गई रिपोर्ट चार अलग-अलग निगरानी समूहों और सीरियाई सरकार की ओर से मुहैया कराए गए आंकड़ों पर आधारित है. बाद में इसकी पुष्टि की गई है.

युद्ध अपराध

इमेज कॉपीरइट Reuters

संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार एजेंसी की प्रमुख नवी पिल्लै ने कहा, "दुखद रूप से ये आंकड़े सभंवतः सीरिया में तीन वर्षों से चल रहे कातिलाना संघर्ष के दौरान मारे गए लोगों की वास्तविक संख्या का महज एक अनुमान हो."

उन्होंने कहा, "सीरिया में हत्यारों, विनाशकारी शक्तियों और जुल्म करने वाले लोगों की ताकत अंतरराष्ट्रीय अकर्मण्यता के कारण बढ़ी है."

दमिश्क प्रांत में मरने वाले लोगों की तादाद सबसे ज्यादा दर्ज की गई है. वहाँ 39,393 लोग मारे गए हैं जबकि एलेप्पो में इसके बाद 31,932 लोग मारे गए हैं.

संयुक्त राष्ट्र ने सीरियाई सरकार और विद्रोही गुटों को इस युद्ध अपराध के लिए जिम्मेदार ठहराया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार