ग़ज़ा में जारी रहेगी कार्रवाई: इसराइल

बेन्यामिन नेतन्याहू इमेज कॉपीरइट Reuters

इसराइल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतन्याहू ने कहा है कि ग़ज़ा में चरमपंथियों के ख़िलाफ़ सैन्य कार्रवाई तब तक जारी रहेगी जब तक कि लक्ष्य हासिल नहीं कर लिया जाता.

नेतन्याहू ने फिर चेतावनी दी है कि फ़लस्तीनी उन सारी जगहों से हट जाएं जहां चरमपंथी सक्रिय हैं.

इसराइली प्रधानमंत्री ने कैबिनेट की बैठक में यह टिप्पणी की.

रविवार की सुबह ग़ज़ा में हवाई हमलों में दो फ़लस्तीनियों के मारे जाने और पाँच के घायल होने की ख़बर है.

एक महीने से भी ज़्यादा समय से जारी इस संकट में अब तक 2090 से ज़्यादा फ़लस्तीनी जबकि 67 इसराइली मारे गए हैं.

स्कूली बच्चों की चिंता

नेतन्याहू ने कहा कि सैन्य कार्रवाई एक सितंबर के बाद भी जारी रह सकती है. एक सितंबर से ही इसराइल में स्कूलों का नया सत्र शुरू होगा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

दक्षिणी इसराइल में ग़ज़ा से जारी रॉकेट हमलों को देखते हुए वहां के लोगों ने स्कूल जाने वाले बच्चों की सुरक्षा पर चिंता जताई है.

इससे पहले, इसराइली सेना ने कहा था कि सीरिया की तरफ से इसराइल के क़ब्ज़े वाली गोलन पहाड़ियों पर पांच रॉकेट दागे गए हैं.

मध्यस्थता

इस बीच फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा है कि इसराइल और हमास को मिस्र में ताज़ा बातचीत में हिस्सा लेना चाहिए.

इमेज कॉपीरइट EPA

मिस्र के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह मध्यस्थता करने के लिए तैयार है. उन्होंने दोनों पक्षों से तत्काल संघर्ष विराम का आग्रह किया है.

मिस्र की मध्यस्थता वाला युद्ध विराम मंगलवार को टूट गया था.

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि शनिवार को ग़ज़ा पर हुए हमले में कम से कम 10 लोग मारे गए जिनमें दो बच्चे भी शामिल हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार