पाक: क़ादरी-इमरान का धरना होगा ख़त्म?

इमरान ख़ान और ताहिरुल क़ादरी इमेज कॉपीरइट EPA

पाकिस्तान में प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ के इस्तीफ़े की मांग को लेकर राजधानी इस्लामाबाद में धरना दे रहे धर्मगुरु ताहिरुल क़ादरी और क्रिकेटर से नेता बने इमरान ख़ान गुरुवार को अपने आंदोलन को लेकर कोई महत्वपूर्ण घोषणा कर सकते हैं.

अपने हज़ारों समर्थकों के साथ इस्लामाबाद के रेड ज़ोन में डटे क़ादरी ने बुधवार को कहा कि गुरुवार शाम तीन बजे वो इस इंक़लाब मार्च और धरने को अंतिम बार संबोधित करेंगे. उसके बाद आम लोगों की जिरगा आयोजित की जाएगी जो आगे के आंदोलन पर फ़ैसला करेगी.

आंदोलन की रणनीति

उन्होंने अपने समर्थकों से दोपहर तीन बजे तक धरनास्थल पर पहुँचने की अपील की है.

वहीं क्रिकेटर से राजनेता बने और तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के नेता इमरान ख़ान ने बुधवार को अपनी अगली रणनीति की घोषणा को एक दिन के लिए आगे बढ़ाते हुए अपने समर्थकों को गुरुवार शाम छह बजे धरनास्थल पर पहुँचने की अपील की है.

इमरान ख़ान का कहना है कि उनका जो भी अगला क़दम होगा, वह लोकतंत्र और संविधान के हित में होगा. लेकिन उनके अनुसार उनका क़दम नवाज़ शरीफ़ के लिए ख़तरनाक़ होगा.

प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से इस्तीफ़े की मांग को लेकर इमरान ख़ान ने 14 अगस्त को आज़ादी मार्च की शुरुआत लाहौर से की थी. धर्मगुरु ताहिरुल क़ादरी ने भी उसी दिन इंक़लाब मार्च की शुरुआत की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार