चरमपंथी हमले की आशंका बढ़ी: ब्रिटेन

इमेज कॉपीरइट Reuters

ब्रिटेन में चरमपंथी हमले की आशंका का स्तर ‘सब्सटेंशियल’ से बढ़ाकर ‘सीवियर’ कर दिया गया है.

ब्रिटेन ने कहा है कि इराक़ और सीरिया में चल रहे संघर्ष के मद्देनज़र इस बात की आशंका ख़ासी बढ़ गई है कि ब्रिटेन के ख़िलाफ़ 'आतंकवादी हमला' हो सकता है.

ब्रिटेन की गृह मंत्री टेरेसा मे ने यह जानकारी देते हुए कहा है कि फिलहाल इस बाबत कोई ख़ुफ़िया जानकारी नहीं है कि यह हमला ‘तत्काल होने वाला’ है.

हमले की आशंका का यह स्तर ब्रिटेन में हमले की आशंका के पांच स्तरों में दूसरे पायदान पर है.

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा है कि ब्रिटेन से सीरिया और शायद इराक़ के लिए क़रीब 500 लोगों ने यात्रा की है.

उन्होंने कहा कि इस्लामिक स्टेट के चरमपंथी जो ख़िलाफ़त की स्थापना करने की कोशिश कर रहे हैं या इलाक़े में इस्लामी राज्य बनाना चाहते हैं, उन्होंने ‘हमारी सुरक्षा के लिए पहले के मुक़ाबले कहीं ज़्यादा ख़तरा खड़ा कर दिया है’.

कैमरन का कहना है कि ऐसा क़ानून बनाया जाएगा, जिसके बाद संघर्ष से जुड़े इलाक़ों के लिए सफ़र करने वाले लोगों के पासपोर्ट ज़ब्त करना आसान होगा.

आशंका स्तर

इमेज कॉपीरइट PA

ब्रिटेन में चरमपंथी हमले की आशंका के पांच स्तर हैं. ब्रिटिश गृह मंत्रालय के मुताबिक़ सबसे पहला स्तर है- क्रिटिकल. इसका मतलब है कि हमला होना तय है.

दूसरा स्तर है- सीवियर. इसका मतलब है कि हमला कभी भी हो सकता है.

तीसरा स्तर है सब्सटेंशियल, यानी हमले की आशंका काफ़ी मज़बूत है.

चौथा स्तर है मॉडरेट यानी हमला संभावित और पांचवां स्तर है लो यानी हमले की आशंका काफ़ी कम.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार