यूक्रेन: 'चाकुओं से गोदा, सिगरेटों से दागा, मार दिया'

  • 29 अगस्त 2014
यूक्रेन टैंक इमेज कॉपीरइट Reuters

मानवाधिकार संगठन ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) ने पूर्वी यूक्रेन में रूस समर्थक लड़ाकों के नियंत्रण वाले इलाक़ों में बर्बर मानवाधिकार उल्लंघनों के सबूत छापे हैं.

एचआरडब्ल्यू के मुताबिक़ स्वघोषित डोनेत्स्क और लुहांस्क गणराज्य के हथियारबंद लड़ाके मनमाने ढंग से सैकड़ों नागरिकों को हिरासत में ले रहे हैं.

प्रताड़ित किए जा रहे लोगों में पत्रकार, यूक्रेन समर्थक कार्यकर्ता और उदार धार्मिक नेता शामिल हैं.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक़ पूर्वी यूक्रेन में जारी हिंसा में अब तक 2200 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं और छह हज़ार से अधिक घायल हैं.

इस साल अप्रैल महीने में रूस ने क्राईमिया पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया था. इसके बाद रूस समर्थक विद्रोहियों ने डोनेत्स्क और लुहांस्क इलाक़ों के बड़े हिस्से पर क़ब्ज़ा जमा लिया था.

पीटा गया, चाकू से गोदा गया

इमेज कॉपीरइट AP

संगठन का दावा कि हिरासत में लिए गए लोगों को पीटा गया, चाकुओं से गोदा गया और फिर सिगरेटों से दागा गया. कुछ लोगों को तो मौत के घाट भी उतार दिया गया.

एचआरडब्ल्यू का कहना है उनके पास लोगों को मारने के सबूत हैं.

रिपोर्ट छापने वाली तान्या लोकशीना ने बताया, "दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि ये मानवाधिकार उल्लंघन बेहद सुनियोजित ढंग से किए गए हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार