पाक: सचिवालय-पीटीवी में घुसे प्रदर्शनकारी

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को सरकारी टीवी चैनल की इमारत से निकाल दिया है और उसका प्रसारण बहाल हो गया है.

देश में जारी राजनीतिक संकट के बीच सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ़ प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से मिल रहे हैं.

बीबीसी उर्दू के अनुसार कुछ समय के लिए पीटीवी न्यूज़ पर सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों का क़ब्ज़ा होने के बाद उसे सेना के हवाले कर दिया गया है.

सोमवार को प्रदर्शनकारी पहले सचिवालय में और उसके बाद सरकारी टीवी चैनल के दफ्तर में भी घुस गए हैं और उसका प्रसारण बंद करवा दिया था.

इसके बाद पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ पार्टी के नेता इमरान ख़ान और मौलवी ताहिरुल क़ादरी ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वो किसी भी सरकारी इमारत में न घुसें.

इमरान ख़ान ने कहा कि कोई भी कार्यकर्ता किसी इमारत में न घुसें और किसी तरह की हिंसा न करें.

ताहिरुल क़ादरी ने कहा कि पीटीवी के दफ़्तर में घुसने वाले प्रदर्शनकारी बाहर आ जाएं और प्रदर्शन इमारत के बाहर ही करें.

उन्होंने प्रदर्शनकारियों से अपील की कि वो सेना की तरफ़ से निर्धारित सीमा के अंदर ही प्रदर्शन करें.

अर्धसैनिक बल पाकिस्तान रैंजर्स पीटीवी की इमारत के बाहर पहरा दे रहे हैं जबकि सेना ने प्रदर्शनकारियों को बाहर निकाला.

इमेज कॉपीरइट AFP

राजनीतिक संकट

इससे पहले रविवार को पुलिस और प्रदर्शनकारियों की झड़पों में तीन लोग मारे गए जबकि सैंकड़ों घायल हो गए.

विपक्षी नेता इमरान ख़ान और मौलवी ताहिरुल कादरी और उनके समर्थक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का इस्तीफ़ा मांग रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

वो नवाज़ शरीफ़ पर पिछले साल हुए चुनावों में धांधली के ज़रिए जीत हासिल करने का आरोप लगाते हैं जबकि प्रधानमंत्री इन आरोपों को ख़ारिज करते हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

वहीं सेना ने दोनों पक्षों से बातचीत के जरिए संकट को सुझलाने की अपील की है.

इमेज कॉपीरइट AP

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार