'आईए और भारत का अम्बेसडर बन कर जाईए'

  • 2 सितंबर 2014
नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट Getty

मंगलवार को जापान दौरे के चौथे दिन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में काम करने आने वाले जापानियों को भारत को और गंभीरता से देखने का आग्रह किया.

मोदी टीसीएस जापान टेक्नोलॉजी एंड कल्चर एकेडमी में भाषण दे रहे थे.

मोदी ने जापान से भारत आने वाले प्रशिक्षुओं के साथ एक बैठक में कहा कि आप भारत में काम करने आईए और भारत के अम्बेसडर बनकर जाईए.

इस बैठक में भारत में टीसीएस कंपनी में काम करने के लिए भारत आने वाले जापानी कर्मचारियों से उन्होंने कहा, ''आप भारत आएं तो केवल टीसीएस के कमरे में बंद होकर न रह जाएं. यहां हर शनिवार और रविवार को निकलें और हमारे प्राचीन देश देखें.''

उन्होंने कहा, ''मैं दावे के साथ कहता हूं कि यदि आप भारत में छह महीने रहें और हर रोज अलग व्यंजन खाना चाहें तो आपको इस दौरान एक ही व्यंजन को दोबारा खाने की नौबत नहीं आएगी.''

उन्होंने कहा कि इक्कीसवीं सदी ज्ञान की सदी है और भारत जब भी ज्ञान के क्षेत्र में उतरा है उसने दुनिया को नेतृत्व दिया है. नालंदा इसका उदाहरण है जहां दुनिया भर से और जापान से भी छात्र शिक्षा लेने आते थे.

उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि जापान और भारत मिलकर इस नई सदी में दुनिया को एक नई रोशनी दिखा सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार