लाखों यूक्रेनी विस्थापित, रूस रणनीति बदलेगी

इमेज कॉपीरइट AFP

रूस ने कहा है कि पूर्वी यूरोप में नैटो सेनाओं की बढ़ती मौजूदगी को देखते हुए वो अपनी सैन्य रणनीति में बदलाव कर रहा है.

रूसी सरकार के एक सलाहकार मिखाइल पोपोव के अनुसार नैटो और अमरीका के साथ रूस के रिश्ते लगातार बिगड़ रहे हैं और इसकी झलक इस नई रणनीति में भी मिलेगी.

सोमवार को नैटो ने घोषणा की थी कि वो पूर्वी यूरोप में अपने सदस्यों की रक्षा के लिए वहां अपनी मौजूदगी को मज़बूत करेगा.

पूर्वी यूक्रेन में यूक्रेन की सेना रूस समर्थक अलगाववादियों से जूझ रही है और अप्रैल से चल रहे इस संकट में अब तक 2,600 से ज़्यादा लोग मारे गए हैं और 10 लाख लोग विस्थापित हुए हैं.

लाखों बेघर

सोमवार को यूक्रेन के रक्षा मंत्री ने कहा कि अगर रूस 'महायुद्ध' शुरू करता है तो इसमें दसियों हज़ार लोग मारे जाएंगे.

वहीं रूस ने ऐसी कोई लड़ाई शुरू करने के आरोपों से इनकार किया है. रूस यूक्रेन के अलगाववादियों का सक्रिय रूप से समर्थन करने से भी इनकार करता है.

दूसरी तरफ़ संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि यूक्रेन में जारी संकट की वजह से दस लाख से भी ज़्यादा लोग विस्थापित हुए हैं और इनमें से बहुत से लोग सीमा पार करके रूस में चले गए हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी संस्था का कहना है कि आंतरिक रूप से विस्थापित होने वाले लोगों की संख्या भी दो लाख साठ हजार के आसपास है.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक़ इनकी वास्तविक संख्या इससे कहीं ज़्यादा हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार