दस में से एक लड़की 'यौन हिंसा का शिकार'

इमेज कॉपीरइट Getty

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के अनुसार करीब 12 करोड़ लड़कियां 20 साल की उम्र तक आते आते बलात्कार या यौन दुर्व्यहवार का शिकार हुई है.

बच्चों के लिए काम करने वाली संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनिसेफ का कहना है कि साल 2012 में 95,000 लड़कियों और किशोरियों को मौत के घाट उतार दिया गया.

इमेज कॉपीरइट Getty

इनमें से ज्यादातर दक्षिण अमरीकी और कैरेबियाई देशों से थी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि पूरी दुनिया में बच्चे हिंसा का शिकार हो रहे हैं जिसमें डराना धमकाना भी शामिल है. इस रिपोर्ट में 190 देशों से आकंड़े जुटाए गए.

रिपोर्ट के अनुसार दस में छह बच्चे रोजमर्रा उनकी देखभाल करने वालो से पिटाई खाते हैं. इनकी उम्र दो से 14 साल के बीच है.

यूनिसेफ के एक्सिक्यूटिव निदेशक एंथोनी लेक का कहना है, ''इस तरह की हिंसा ऐसी जगहों पर हो रही है जहां बच्चे सुरक्षित रहने चाहिए जैसे उनके घर, स्कूल और समुदाय. इस प्रकार की हिंसा उम्र की सीमा, भूगोल, धर्म, जाति या वेतन के दायरे से परे है.''

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमसे फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार