महमूद अब्बास ने हमास को चेतावनी दी

महमूद अब्बास इमेज कॉपीरइट Reuters

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने हमास को चेतावनी दी है कि अगर वो संयुक्त सरकार में रहना चाहते हैं तो ग़ज़ा पट्टी में वो जिस तरह से काम काज करते हैं उन्हें उसमें बदलाव करना होगा.

अब्बास ने 27 उप-मंत्रियों की संयुक्त सरकार की आलोचना की और इस बात पर ज़ोर दिया कि "एक शासन" होना चाहिए. इसराइल के हमलों के बाद ग़ज़ा उससे उबरने की कोशिश कर रहा है.

ग़ज़ा में 2100 से ज़्यादा फ़लस्तीनी और 66 इसराइली सैनिक संघर्ष के दौरान मारे गए थे. संघर्ष में सात इसराइली नागरिकों की जान भी गई थी.

मिस्र की राजधानी क़ाहिरा पहुंचने पर अब्बास ने कहा, "हम हमास के साथ इस तरह से काम नहीं कर सकते हैं. ग़ज़ा पट्टी में सरकार के काम काज को 27 मंत्रालयों के उप सचिव चला रहे हैं और संयुक्त सरकार ज़मीनी स्तर पर कुछ भी कर पाने में सक्षम नहीं है."

इमेज कॉपीरइट Reuters
इमेज कॉपीरइट epa

उन्होंन कहा कि ग़ज़ा भारी आर्थिक नुक़सान से गुज़र रहा है और इसे फिर से बनाने में सात अरब डॉलर और 15 साल का वक़्त लगेगा. इस बार के हालात 2009 और 2012 में हुए संघर्ष की तुलना में '100 गुणा बदतर' हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार