आखिर क्या है चीन का अलीबाबा...

इमेज कॉपीरइट afp

अलीबाबा...ये नाम कहानियों से निकलकर चीन की एक ऐसी कंपनी के रूप में स्थापित हो चुका है जो अमेज़न और ईबे से अधिक सामान बेचता है.

अमेज़न और ईबे की बिक्री को मिला दें तो भी अलीबाबा इन पर भारी पड़ता है और इसके पीछे दिमाग है अलीबाबा के मालिक जैक मा का.

जैक मा की कंपनी यानी अलीबाबा का आईपीओ अगले हफ्ते बाज़ार में आने वाला है.

बीबीसी की चीन संपादक कैरी ग्रेसी ने जायज़ा लिया कंपनी और उसके मालिक जैक मा की नीतियों का

जैक मा ने अपने 17 दोस्तों के साथ अलीबाबा की शुरुआत की थी करीब पंद्रह साल पहले और उनका कहना था, "हम सभी के दिमाग अच्छे हैं.’’

आज ये इंटरनेट कंपनी ज़बरदस्त फ़ायदे में है और दुनिया के ई-कॉमर्स बाज़ार की अगुआ है.

जैक मा की प्रगति चीन के मध्यम वर्ग की प्रगति से जोड़कर देखी जा सकता है जो पिछले 15 साल में तेज़ी से बदला है. आज चीन दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन बाज़ार है जहां साठ करोड़ इंटरनेट उपभोक्ता हैं. इनमें से आधे ऑनलाइन पर शॉपिंग करते हैं.

चीन दुनिया का सबसे बड़ा स्मार्टफोन बाज़ार भी है.

इमेज कॉपीरइट Getty

चीन में विदेशी कंपनियों को काम नहीं करने दिया गया जिसका फायदा अलीबाबा के साथ साथ बाइदू और टेनसेंट जैसी कंपनियों को हुआ लेकिन अलीबाबा ने बीते पंद्रह सालों में कुछ ख़ास किया है.

क्या किया अलीबाबा ने?

जैक मा अपनी शिक्षक की नौकरी छोड़कर इस व्यवसाय में आए थे.

चीन का गूगल या चीन का अमेज़न बनने के साथ ही जैक मा ने अपनी कंपनी के ज़रिए वो टूल्स बनाए जिससे चीन के लोग सुरक्षित और सस्ती खरीदारी कर सकें.

जैक मा को पता था कि चीन में उपभोक्ता और उत्पादक एक दूसरे पर भरोसा नहीं करते. उन्होंने दोनों को सुरक्षा दी पेमेंट सिस्टम में.

इमेज कॉपीरइट bbc

इसके बाद कंपनी ने अपने फ़ायदे के लिए चीन की इंटरनेट राजनीति का भरपूर इस्तेमाल किया. उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी के नेताओं को विश्वास दिलाया कि कंपनी किसी भी तरह से पार्टी के ख़िलाफ नहीं है.

वह कहते हैं, "हम अपने शेयरहोल्डर्स के लिए वैल्यू बनाते हैं. हमारे शेयरहोल्डर नहीं चाहते कि हम सरकार की मुख़ालफ़त करें. हम सरकार के साथ मोहब्बत करते हैं लेकिन उनसे शादी नहीं करेंगे.’’

आने वाले समय में जब अलीबाबा का आईपीओ आएगा तो लोग उम्मीद कर रहे हैं कि जैक मा और उनकी कंपनी की कीमत करीब 15 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार