अफ़ग़ानिस्तान: नेटो हमले में 11 की मौत

इमेज कॉपीरइट AP

अफ़ग़ानिस्तान के पूर्वी प्रांत कुनार में नेटो के एक हमले में कम से कम 11 अफ़ग़ान नागरिकों की मौत हो गई है. स्थानीय सुरक्षा अधिकारियों ने बीबीसी को ये जानकारी दी है.

अधिकारियों के मुताबिक नारंग ज़िले में ये हमला तब हुआ जब स्थानीय पुलिस और सैनिक एक हमले की चपेट में आ गए थे.

राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने हमले की आलोचना की है. नेटो हवाई हमले की जांच कर रहा है.

इस तरह नागरिकों की मौतों के चलते उनके और नेटो के बीच तनाव बढ़ा है. ये मौतें तब हुई हैं जबकि हामिद करज़ई का उत्तराधिकारी तय किया जा रहा है.

अब्दुल्ला अब्दुल्ला और उनके प्रतिद्वंद्वी अशरफ़ ग़नी दोनों ही जून महीने में हुए चुनाव में अपनी जीत का दावा कर रहे हैं और दोनों ने ही चुनावों में बड़े पैमाने पर धाँधली का आरोप लगाया है.

'चरमपंथी या आम लोग'

नेटो के हवाई हमले में आम नागरिकों की मौत अफ़ग़ानिस्तान में काफी संवेदनशील मामला है और इसे लेकर करज़ई और नेटो के बीच शुरू से ही तनाव रहा है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

कुनार प्रांत के गवर्नर शुजा उल मुल्क जलाला ने रॉयटर्स समाचार एजेंसी को बताया है कि दो हवाई हमले हुए. इस इलाक़े में सरकारी नियंत्रण नहीं के बराबर है और इसी के चलते सही ब्यौरा नहीं मिल पा रहा है.

अमरीकी सेना के एक प्रवक्ता ने रॉयटर्स को बताया कि जाँचकर्ता दूसरे हमले की परिस्थितियों की जाँच कर रहे हैं.

संवाददाताओं के मुताबिक़ उस इलाक़े तक पहुँच नहीं होने के कारण ये पता करना मुश्किल हो रहा है कि मारे गए लोग चरमपंथी हैं या आम लोग.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार