आईएस के ख़िलाफ़ अमरीकी रणनीति की घोषणा

  • 11 सितंबर 2014
इमेज कॉपीरइट Getty

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि अमरीका आईएस के ख़िलाफ़ एक गठबंधन की अगुवाई करेगा. उन्होंने आईएस को इराक़, सीरिया और मध्य-पूर्व के लिए ख़तरा बताया है.

ओबामा ने टीवी पर प्रसारित अपने भाषण में कहा कि वह इस्लामी चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट का नामोनिशान मिटाकर ही दम लेंगे.

उन्होंने कहा है कि वो आईएस के ख़िलाफ़ सीरिया और इराक़ में कार्रवाई में नहीं हिचकेंगे.

ओबामा ने कहा, "हम उन लोगों के साथ हैं जो आज़ाद रहने के लिए संघर्ष कर रहे हैं."

पनाह

ओबामा ने कहा कि जो भी आतंकी संगठन अमरीका को चुनौती देगा उसे दुनिया में कहीं भी पनाह नहीं मिलेगी.

उन्होंने कहा कि 475 अमरीकी सैन्य अधिकारियों को इराक़ भेजा जाएगा लेकिन वे वहां सीधी लड़ाई में हिस्सा नहीं लेंगे.

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि अमरीकी सेना अफ़ग़ानिस्तान और इराक़ की तरह ज़मीनी लड़ाई में शामिल नहीं होगी लेकिन हवाई शक्ति का इस्तेमाल कर आईएस के ठिकानों को नेस्तनाबूद करेगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने कहा कि अमरीका आईएस के ख़िलाफ़ लड़ रहे लड़ाकों की मदद करेगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

आईएस ने सीरिया और इराक़ के बड़े भूभाग पर क़ब्ज़ा कर रखा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार