यहूदियों के ख़िलाफ़ हिंसा सहन नहीं: मैर्केल

मर्केल, जर्मन चांसलर इमेज कॉपीरइट AP

जर्मन चांसलर अंगेला मैर्केल ने जर्मनी में बढ़ रही यहूदी विरोधी विचारधारा की कड़े शब्दों में निंदा की है.

बर्लिन में एक रैली में उन्होंने कहा कि जर्मनी में यहूदियों के ख़िलाफ़ हिंसा पूरे समाज के ऊपर हमला है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि इसराइल की आलोचना का इस्तेमाल यहूदी विरोधी विचारधारा के रूप में नहीं होना चाहिए.

यह रैली बर्लिन में दूसरे विश्वयुद्ध शुरू होने के 75 साल पूरे होने के मौक़े पर हुई. दूसरे विश्व युद्ध के दौरान नाज़ी जर्मनी में क़रीब 60 लाख यहूदियों की हत्या कर दी गई थी.

ग़ज़ा संघर्ष के बाद जर्मनी में यहूदी विरोधी विचारधारा को बढ़ावा मिला है.

जर्मनी की राजधानी बर्लिन में ब्रैंडनबुर्ग गेट पर होने वाली रैली में "यहूदियों से नफ़रत- फिर नहीं" जैसे नारे लग रहे थे.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption ग़ज़ा संघर्ष के बाद जर्मनी में यहूदी विरोधी विचारधारा को बढ़ावा मिला है.
इमेज कॉपीरइट AP

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार