ब्राज़ील करेगा अमेज़न की 'चौकीदारी'

जलवायु परिवर्तन पर निगरानी रखने के लिए ब्राज़ील सरकार ने अमेज़न बेसिन के बीचो-बीच एक विशाल निरीक्षण टावर बनाने का फ़ैसला किया है. ज़मीन से 325 मीटर ऊंचे इस टावर का निर्माण कार्य शुरू भी हो चुका है.

ये टावर ग्रीनहाउस गैस, एरोसोल पार्टिकल्स और मौसम के बारे में ज़रूरी जानकारियां इकट्ठा करेगा.

ब्राज़ील और जर्मनी के वैज्ञानिक इनसे मिली जानकारियों का इस्तेमाल ग्रीनहाउस गैस के स्रोत और जलवायु परिवर्तन से जुड़े सवालों को बेहतर तरीक़े से समझने के लिए करेंगे.

परियोजना से लाभ

जर्मनी की तरफ़ से इस परियोजना के संयोजक युर्गन केसेलमायर का कहना था, ''इस टावर में पैमाने का बिंदु मानव प्रभाव क्षेत्र से काफ़ी दूर है. इसलिए वायुमंडल के लिए जंगल के क्या मायने हैं उसकी जांच के लिए ये आदर्श स्थान होगा.''

अमेज़न जंगल दुनिया के सबसे संवेदनशील पारिस्थितिक क्षेत्रों में से एक है. वायुमंडल में कार्बन उत्सर्जन पर अमेज़न जंगल का बहुत प्रभाव है.

ब्राज़ील के संयोजक पाउलो आर्टेक्सो ने परियोजना के महत्व को बयान करते हुए कहा, ''वैश्विक जलवायु परिवर्तन से जुड़े अनगिनत सवालों के जवाब तलाशने में ये टावर बहुत मदद करेगा.''

इस तरह का एक निरीक्षण टावर मध्य साइबेरिया में 2006 में बनाया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार