चीन से 'प्रताड़ना के उपकरणों का निर्यात'

  • 23 सितंबर 2014
बिजली के झटके देने वाला टॉर्च इमेज कॉपीरइट EPA

मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ बड़ी संख्या में चीन की कंपनियां 'प्रताड़ना देने वाले उपकरणों' का निर्यात कर रही हैं.

प्रताड़ना देने वाले इन उपकरणों में बिजली के झटके देने वाली छड़ी, धातु की कांटों वाली छड़ी शामिल हैं.

मानवाधिकार संगठन का कहना है कि अफ्रीका और एशिया में इससे हिंसा के मामलों में वृद्धि हो सकती है.

एमनेस्टी इंटरनेशनल के मुताबिक़ इस व्यापार में 130 से ज़्यादा कंपनियां लगी हुई है, जबकि दस साल पहले सिर्फ़ 28 कंपनियां ऐसे उत्पाद बनाती थीं.

उत्पादों का प्रचार भी

इमेज कॉपीरइट EPA

संगठन का मानना है कि इन उपकरणों में से तो कुछ 'बेहद क्रूर' प्रताड़ना देने वाले हैं और उन पर प्रतिबंध लगना चाहिए. दूसरे उपकरणों के साथ भी यह जोखिम है कि उनका इस्तेमाल हिंसा के लिए हो सकता है.

पिछले साल चीन की शीर्ष अदालत ने प्रताड़ना देने पर प्रतिबंध लगाया था लेकिन कार्यकर्ताओं का कहना है कि अब भी हिरासत में लिए गए लोगों को प्रताड़ना दी जाती है.

संगठन ने कहा है कि चीन एकमात्र ऐसा देश है जो कांटों वाली छड़ी का निर्माण करता है और इसे प्रताड़ना देने के मकसद से तैयार किया जाता है.

एमनेस्टी का कहना है कि चीन की सात कंपनियां अपने ऐसे उत्पादों का प्रचार भी करती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार