इबोला रोकने की सिएरा लियोन की फिर कोशिश

  • 25 सितंबर 2014
सिएरा लियोन में इबोला इमेज कॉपीरइट AP

सिएरा लियोन के राष्ट्रपति अर्नेस्ट बाई कोरोमा ने इबोला संक्रमण को रोकने के लिए और 10 लाख लोगों को बाक़ियों से अलग-थलग करने का फ़ैसला किया है.

उत्तरी ज़िलों पोर्ट लोको और बोमबाली और दक्षिणी ज़िले मोयामबा को तुरंत प्रभाव से देश के बाक़ी हिस्सों से संपर्क काट कर अलग-थलग कर दिया जाएगा.

सिएरा लियोन में अब तक क़रीब छह सौ लोग इबोला वायरस से मारे गए हैं. अगस्त की शुरुआत में ही दो पूर्वी ज़िलों को अलग-थलग कर दिया गया था.

कर्फ़्यू

इमेज कॉपीरइट
Image caption सिएरा लियोन में रविवार को ही तीन का देशव्यापी कर्फ़्यू ख़त्म हुआ था

तीन और ज़िलों का संपर्क काटने का यह क़दम देश भर में लागू किए गए तीन दिन के कर्फ्यू के बाद उठाया जा रहा है. यह कर्फ्यू रविवार को ख़त्म हुआ था.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से जारी किए गए ताज़ा आँकड़ों के मुताबिक पश्चिमी अफ़्रीका में अब तक 2917 लोग इबोला से मारे जा जुके हैं. सिएरा लियोन, गिनी और लाइबेरिया सबसे ज़्यादा प्रभावित हैं.

अधिकारियों का कहना है कि तीन दिन के कर्फ़्यू के दौरान दस लाख से अधिक घरों का सर्वे किया गया और इबोला के 130 नए मामले सामने आए.

राष्ट्रपति कोरोमा का कहना है कि कर्फ़्यू कामयाब रहा लेकिन इससे नए चुनौतीपूर्ण क्षेत्र भी सामने आए.

एक तिहाई आबादी

इमेज कॉपीरइट AP

उनका कहना है कि इसी वजह से कुछ अन्य इलाक़ों को भी अलग-थलग किया जा रहा है.

इस दौरान सिर्फ़ आपात सेवाओं में लगे लोग ही उन इलाक़ों में आ-जा सकेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार