नवाज़ यूएन में छेड़ सकते हैं कश्मीर राग

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ इमेज कॉपीरइट

शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की ओर से कश्मीर का मुद्दा उठाए जाने की प्रबल संभावना है.

पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज़ अहमद ने न्यूयार्क में पाकिस्तानी पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि कोई वजह नहीं है कि पाकिस्तान भारत के दबाव में आए और संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर का मसला न उठाए.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे.

इस बीच भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा के अधिवेशन में भाग लेने के लिए गुरुवार रात अमरीका रवाना हुए और वो शुक्रवार की सुबह न्यूयॉर्क पहुंच जाएंगे.

मुलाक़ात की संभावना

इमेज कॉपीरइट
Image caption पीपीपी के सह-अध्यक्ष बिलावल भुट्टो ने भी कुछ दिनों पहले कश्मीर का मुद्दा उठाया था.

पाकिस्तान के इस बयान को देखते हुए कहा जा सकता है अमरीका में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ की मुलाक़ात नहीं होगी. हालांकि कुछ समय पहले तक इस बात की संभावना जताई जा रही थी.

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के सलाहकार सरताज़ अज़ीज़ यहां राष्ट्रमंडल देशों के एक कार्यक्रम में मिले थे. लेकिन अब तय लगता है कि विदेश मंत्री स्तरीय की वार्ता भी नहीं होगी.

पाकिस्तान के विदेश सचिव ने यह भी कहा कि विदेश सचिव स्तर की बातचीत को भारत ने बंद किया था. इसलिए अगर भारत की ओर से कोई पहल होती है तभी विदेश सचिव स्तर की बातचीत होगी. इसके लिए पाकिस्तान अपनी ओर से कोई पहल नहीं करेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार