ईरानः निकल रहा है परमाणु समझौते का समय

हसन रूहानी इमेज कॉपीरइट AFP

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने चेतावनी देते हुए कहा है कि परमाणु कार्यक्रम पर वार्ता का समय निकलता जा रहा है.

उन्होंने कहा कि ईरान और दुनिया के छह ताक़तवर देशों के साथ संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान होने वाली वार्ता में बहुत कम ही प्रगति हुई है.

उन्होंने कहा, "वार्ता के मसले पर हम कुछ क़दम आगे बढ़े हैं, लेकिन यह अपर्याप्त है."

प्रतिबंध हटाने का मुद्दा

इस मसले का अंतिम समाधान निकालने के लिए 24 नवंबर तक की तारीख़ तय की गई है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption हसन रूहानी ने अमरीका के साथ रिश्तों में बेहतरी का भरोसा जताया.

हालांकि रूहानी ने विश्वास जताया कि ईरान और अमरीका के रिश्तों में हमेशा ऐसी कटुता नहीं रहेगी.

अमरीका, यूरोपीय संघ और अन्य शक्तिशाली देशों को संदेह है कि ईरान चुपचाप परमाणु हथियार विकसित करने की कोशिश कर रहा है. ईरान इन आरोपों को नकारता रहा है.

यह वार्ता ईरान की तरफ़ से यूरेनियम का संबर्धन रोकने के बदले पश्चिमी देशों के प्रतिबंध हटाने के मसले पर केंद्रित है.

रूहानी ने कहा कि ईरान ऐसे किसी समझौते को स्वीकार नहीं करेगा जो यूरेनियम संबर्धन को रोकने की ज़रूरत पर ज़ोर देता हो. उन्होंने कहा कि प्रतिबंधों को 'हटाया जाना' चाहिए.

उन्होंने कहा, "ईरान शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम के नाम पर अपने वैधानिक अधिकारों का समर्पण नहीं करेगा."

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार