मोदी को सुनने के लिए न्यूयॉर्क में जमावड़ा

इमेज कॉपीरइट Getty

मैडिसन स्केवयर गार्डन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत समारोह के लिए शिकागो से लेकर सिलिकॉन वैली तक के भारतीय-अमरीकी न्यूयॉर्क में डेरा डाल चुके हैं.

सभी टिकटें दो हफ़्ते पहले बिक चुकी हैं लेकिन कुछ लोग अब भी उम्मीद लगाए हुए हैं या फिर उस होटल के इर्द गिर्द घूम रहे हैं कि किसी तरह मोदी की एक झलक मिल जाए.

जिन्हें ये टिकट मिल गए हैं वो फूले नहीं समा रहे.

मोदी के नाम की टीशर्ट पहने डिंकल पटेल और उनकी पत्नी वैशाली का कहना है उन्हें लॉटरी के ज़रिए टिकट मिले हैं.

वैशाली कहती हैं, "हम बहुत खुश हैं. हमने उन्हें यूएन के भाषण के लिए जाते हुए भी देखा और तब से हम बहुत खुश हैं."

'गुडलक'

शालिनी सिंह मां बनने वाली हैं लेकिन इस हालत में भी डेढ़ महीने से मैडिसन स्केवयर गार्डन में होने वाली तैयारी में जुटी हुई हैं.

वो कहती हैं, "उनकी वजह से ही एनर्जी आती है. मेरी होने वाली बच्ची का गुडलक है जो हम मिल पा रहे हैं उनसे वरना तो सालों से टीवी पर ही देख लेते थे."

जिन्हें टिकट नहीं मिल पाए उनमें मायूसी तो है लेकिन जोश में कोई कमी नहीं.

पूरे अमरीका में उनके हिमायती सुपरबॉल के मैच की तर्ज़ पर पार्टी कर रहे हैं जिससे कि वो बड़े टीवी स्क्रींस पर मोदी के इस जलसे का मज़ा ले सकें.

उनके कई चाहने वालों के लिए ये एक तरह से एक जीत का जश्न है क्योंकि मोदी को गुजरात में हुए दंगों की वजह से दस बरस तक अमरीका आने से रोक कर रखा गया.

अंदाज़ा है कि बीस हज़ार के लगभग भारतीय-अमरीकी, कांग्रेस के सदस्य और नामीगिरामी हस्तियां इस समारोह में शामिल होंगे.

मीडिया में भी चर्चा

न्यू जर्सी में उनके समर्थकों की भारी संख्या है और आयोजकों ने रविवार के दिन भी वहां से न्यूयॉर्क आनेवाली ट्रेनों में कोई कमी न हो उसका इंतज़ाम कर लिया है.

अमरीकी अख़बारों में भी मोदी का ख़ासा ज़िक्र है और लोग हैरत जता रहे हैं कि किसी और देश का नेता अमरीकी ज़मीन पर इतनी भीड़ इकठ्ठा कर सकता है.

इमेज कॉपीरइट Getty

इतवार को ही मोदी एक और ख़ास पहल करने जा रहे हैं जो पहले कभी नहीं हुआ.

वो न्यूयॉर्क में इसरायल के प्रधानमंत्री बिन्यामिन नेतनयाहू से मुलाक़ात करेंगे. भारत और इसरायल के काफ़ी अच्छे संबंध हैं लेकिन किसी अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान दोनों देशों में सार्वजनिक रूप से इस तरह की मुलाक़ात कभी नहीं हुई.

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन जारी रहेगा लेकिन ऐसा लग रहा है जैसे नज़रें सबकी मोदी पर ही रहेंगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार