अमरीकी हवाई हमलों में मारे गए जेहादी

  • 28 सितंबर 2014
इस्लामिक स्टेट पर हवाई हमले इमेज कॉपीरइट Reuters

इराक़ी सुरक्षाबलों ने इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों से झड़प के बाद ईरान सीमा पर स्थित एक बाँध पर फिर से क़ब्ज़ा करने का दावा किया है.

सुरक्षाबलों का कहना है कि इस्लामिक स्टेट के गढ़ मोसुल में अमरीकी हवाई हमलों से जेहादियों को भारी नुक़सान हुआ है.

हवाई हमलों में 18 जेहादी मारे गए हैं और दर्जनों घायल हुए हैं.

बीती रात राजधानी बग़दाद के एक सुन्नी बहुल इलाक़े में हुए एक कार बम धमाके में कम से कम नौ लोग मारे गए और पच्चीस घायल हो गए.

गठबंधन के नए सहयोगी

इस बीच, ब्रिटेन, डेनमॉर्क और बेल्जियम के इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ हवाई अभियान में शामिल होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई विदेश मंत्री का कहना है कि उनका देश अगले कुछ दिनों में सैन्य अभियान में शामिल होने के मुद्दे पर फ़ैसला ले लेगा.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ ज़्यादा से ज़्यादा देशों को गठबंधन में शामिल होने का आह्वान किया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरियाई विद्रोही संगठन अल नुस्र फ़्रंट ने अमरीकी हवाई हमलों की आलोचना करते हुए इन्हें 'इस्लाम के ख़िलाफ़ युद्ध' बताया है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption इस्लामिक स्टेट ने इराक़ और सीरिया के बड़े हिस्से पर क़ब्ज़ा कर लिया है.

ऑनलाइन जारी किए गए एक बयान में अल-क़ायदा से जुड़े अल-नुस्र फ़्रंट ने दुनियाभर में फैले जेहादियों से हमलों में शामिल पश्चिमी देशों को निशाने बनाने के लिए कहा है.

अल नुस्र का ये बयान इराक़ और सीरिया में अमरीका के नेतृत्व में चल रहे अंतरराष्ट्रीय गठबंधन के हवाई अभियान के तेज़ होने के बाद आया है.

इस्लामिक स्टेट ने इराक़ और सीरिया के बड़े हिस्से पर क़ब्ज़ा कर लिया है.

हवाई हमलों के कारण इस्लामिक स्टेट की बढ़त रुक गई है और उसे कई मोर्चों से पीछे हटना पड़ा है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार