हांगकांग: 'प्रदर्शनों से नहीं बदलेगा चीन का मन'

इमेज कॉपीरइट Getty

हांगकांग के मुख्य कार्यकारी सीवाई लेंग ने प्रदर्शनकारियों से लगातार जारी प्रदर्शन को तत्काल ख़त्म करन की अपील की है. प्रदर्शनों के चलते शहर के कई हिस्से अवरुद्ध हो गए हैं.

लेंग का ये भी कहना है कि लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनों के चलते चीन पीछे नहीं हटेगा.

प्रदर्शनों में शामिल लाखों लोगों ने मुख्य व्यावसायिक शहर और दूसरे क्षेत्रों को घेर लिया है.

प्रदर्शनकारी लेंग के इस्तीफ़े की मांग कर रहे हैं क्योंकि इनका मानना है कि लेंग चीन की कठपुतली हैं.

प्रदर्शनकारी चीन से उस नियम को वापस लेने की मांग कर रहे हैं जिसमें हांगकांग में उसकी पसंद से नेता नियुक्त करने की बात कही गई थी.

मताधिकार की आज़ादी

चीन ने पिछले महीने कहा था कि वह शहर के नेता के लिए साल 2017 में चुनाव होने देगा, लेकिन उम्मीदवारों की जांच वह खुद करेगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption हॉन्ग कॉन्ग में लोग नेता चुनने की आज़ादी चाहते हैं.

जबकि प्रदर्शनकारी हांगकांग का नेता चुनने की स्वतंत्रता चाहते हैं जिसे चीन ख़ारिज कर चुका है.

वहीं चीन के विदेश मंत्रालय ने दोहराया है कि चीन हांगकांग के प्रशासन का पूरा समर्थन करेगा और ग़ैर-क़ानूनी प्रदर्शनों का विरोध करेगा.

हालांकि अभी हांगकांग की सड़कों पर अपेक्षाकृत शांति का माहौल है लेकिन माना जा रहा है कि बुधवार तक भीड़ बढ़ेगी क्योंकि एक अक्तूबर को ही चीन का राष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है. इस दिन चीन में राष्ट्रीय अवकाश रहता है.

इससे पहले रविवार को सड़कों पर उतरे हजारों प्रदर्शनकारियों के साथ झड़पों में पुलिस ने लगातार आंसू गैस छोड़ी, लेकिन प्रदर्शनकारी डटे रहे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार