पाकिस्तानी 'मदर टेरेसा' के घर चोरी

  • 20 अक्तूबर 2014
पाकिस्तान के जाने माने अबदुल सत्तार ईधी

पाकिस्तान के जाने-माने समाजसेवी अब्दुल सत्तार ईधी के घर चोरी हो गई है.

चोर उनके घर से सोना, चांदी और हजारों डॉलर की नकद राशि चुरा ले गए.

चोरों ने पहले तो ईधी सहित ईधी फ़ाउंडेशन के कर्मचारियों को बंधक बनाया और फिर चोरी की.

86 वर्षीय अब्दुल सत्तार ईधी ने 60 साल पहले पाकिस्तान में चैरिटेबल संस्था ईधी फ़ाउंडेशन की शुरुआत की थी.

पाकिस्तान में 50 हज़ार अनाथ बच्चों को ईधी की संस्था से सहारा मिला हुआ है.

निःशुल्क सेवा

Image caption पाकिस्तान में 50 हज़ार अनाथ बच्चों को ईधी की संस्था से सहारा मिला हुआ है.

ईधी फ़ाउंडेशन स्कूल, अस्पताल, एंबुलेंस सेवाएं, अनाथालय सहित निःशुल्क समाज सेवा करती है.

यही नहीं, यह बुज़ुर्गों और शारीरिक रूप से अक्षम लोगों की देखभाल का काम भी बड़े पैमाने पर करती है.

अक्सर पाकिस्तान सरकार जिन सेवाओं को सही तरीके से मुहैया कराने में असफल रहती है, वहां ईधी फ़ाउंडेशन की बड़ी भूमिका होती है.

ईधी का नाम पाकिस्तान में बड़े आदर से लिया जाता है. उन्हें पाकिस्तान का मदर टेरेसा भी कहा जाता है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार