ईरान: महिला को फांसी, माफ़ी की मुहिम बेअसर

  • 25 अक्तूबर 2014
रेहाना जब्बारी, ईरान इमेज कॉपीरइट AFP

ईरान में एक व्यक्ति की हत्या की दोषी महिला को फांसी दे दी गई है.

महिला का आरोप था कि उस व्यक्ति ने उनके साथ बलात्कार करने की कोशिश की थी.

26 वर्षीय रेहाना जब्बारी को माफ़ी देने के लिए अंतरराष्ट्रीय मुहिम चलाई गई थी लेकिन उन्हें शनिवार को तेहरान की एक जेल में फांसी दे दी गई.

जब्बारी को ईरान के ख़ुफ़िया मंत्रालय के पूर्व कर्मचारी मुर्तजा अब्दोआली सरबंदी की हत्या के आरोप में 2007 में गिरफ़्तार किया गया था.

मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल का कहना है कि जांच के बाद जब्बारी को दोषी ठहराया गया था.

अभियान

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK

जब्बारी की फांसी को रोकने के लिए फेसबुक और ट्विटर पर पिछले महीने एक अभियान चलाया गया था जिसके बाद इसे कुछ समय के लिए रोक दिया गया था.

लेकिन सरकारी समाचार एजेंसी 'तसनीम' के मुताबिक़ जब्बीर का परिवार पीड़ित परिवार की सहमति हासिल करने में विफल रहा.

इमेज कॉपीरइट Facebook
Image caption रेहाना जब्बारी को बचाने के लिए सोशल मीडिया पर मुहिम चलाई गई थी.

जब्बारी का आत्मरक्षा के लिए हत्या करने का तर्क अदालत में साबित नहीं हो सका.

जब्बारी की मां ने बीबीसी फारसी से बातचीत में इस फांसी की पुष्टि की है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार