अमरीकाः सरकारी आदेश के ख़िलाफ़ नर्स की जीत

इबोला नर्स इमेज कॉपीरइट AP

पश्चिम अफ़्रीक़ा में इबोला मरीज़ो का इलाज कर लौटी एक नर्स के पक्ष में अमरीका के एक जज ने फ़ैसला दिया है जिनके कहीं आने-जाने पर प्रतिबंध का आदेश दिया गया था.

न्यायाधीश चार्ल्स ला वर्डियरे ने नर्स कासी हिकॉक्स के पक्ष में फ़ैसला सुनाते हुए कहा कि उनके कहीं आने-जाने पर रोक नहीं लगाई जानी चाहिए क्योंकि उनमें इबोला वॉयरस के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं.

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून के इबोला मरीज़ों की मदद में जुटे कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ भेदभाव की निंदा के बाद कुछ घंटे बाद ही यह फ़ैसला आया.

इमेज कॉपीरइट
Image caption अमरीका के मेन राज्य ने कासी हिकॉक्स के कहीं आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया था.

अमरीका के एक राज्य मेन के गर्वनर के लिए यह फ़ैसला एक झटका था जिन्होंने 21 दिनों के प्रतिबंध की बात कही थी.

न्यायाधीश का कहना था कि नर्स को निगरानी के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों के निर्देशों का पालन करना चाहिए लेकिन राज्य के अनुरोध के मुताबिक़ सार्वजनिक स्थानों से दूर रहने की ज़रूरत नहीं है.

गवर्नर पॉल लीपेज ने कहा कि वह अदालत के नतीज़े से सहमत नहीं हैं, लेकिन वह इसका पालन करेंगे.

मेन राज्य ने नर्स पर 10 नवंबर तक प्रतिबंध लगाने के लिए अदालत में गुहार लगाई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार