वाघा धमाके का आदेश हमने दिया: तालिबान

वाघा सीमा, लाहौर, पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट AFP

वाघा सीमा के पास पाकिस्तान के भीतर हुए धमाके की तालिबान और तालिबान से जुड़े चरमपंथी संगठन जुनदुल्लाह ने ज़िम्मेदारी ली है.

इन संगठनों का दावा है कि उन्होंने इस हमले का आदेश दिया था.

पाकिस्तान में रविवार को लाहौर के निकट वाघा सीमा के पास ज़ोरदार धमाका हुआ था. इसमें 50 से ज़्यादा लोग मारे गए हैं.

पाकिस्तान पुलिस के मुताबिक़ यह आत्मघाती हमला था.

पाकिस्तानी पंजाब के आईजी पुलिस मुश्ताक सखेरा ने इसकी पुष्टि की है कि यह विस्फोट आत्मघाती था.

मारे गए लोगों में कई पाकिस्तानी रेंजरों, अधिकारियों के अलावा महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption धमाका भारत-पाकिस्तान की वाघा सीमा के पास हुआ है.

ख़बरों में कहा गया है कि यह वारदात वाघा बार्डर पर रोज़ाना की फ़्लैग परेड के तुरंत बाद हुई.

धमाके की वजह

प्रशासन ने लाहौर के सभी अस्पतालों में आपातकाल लागू कर दिया है.

अस्पताल के डीएमएस डॉ खुर्रम ने स्थानीय टेलीविजन एक्सप्रेस न्यूज़ से बातचीत में इसे नरसंहार बताया है.

प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ और पाकिस्तान प्रशासित पंजाब के मुख्यमंत्री शहबाज़ शरीफ़ ने इस घटना की रिपोर्ट मांगी है.

उधर, पाकिस्तान तहरीक इंसाफ़ ने ट्विटर पर एक संदेश में इस धमाके पर अफ़सोस जताया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार