वाघा सीमा: धमाके में मृतकों की संख्या 57

पाकिस्तान में धमाका इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तान के लाहौर में पाकिस्तान-भारत वाघा सीमा के पास हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या बढ़कर 57 हो गई है.

पाकिस्तान पंजाब पुलिस की प्रवक्ता नबीला ग़ज़नफ़र के अनुसार रविवार शाम हुई घटना में मरने वालों में पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसी पाक रेंजर्स के कई अधिकारी, कई महिलाएं और बच्चे भी हैं.

प्रतिबंधित संगठन जमाअतुल अहरार के केंद्रीय प्रवक्ता एहसानुल्लाह एहसान ने बीबीसी को फ़ोन कर इस हमले की ज़िम्मेदारी स्वीकार की है.

ये संगठन पाकिस्तान के क़बायली इलाक़े मोहमंद एजेंसी में सक्रिय है.

इस हमले के चलते तीन दिन तक वाघा सीमा पर होने वाला फ़्लैग परेड समारोह नहीं होगा.

भारत के सीमा सुरक्षा बल के प्रमुख डीके पाठक ने बताया कि ऐसा पाकिस्तान के अनुरोध पर किया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption भारत सीमा से सिर्फ़ 500 मीटर के फ़ासले पर धमाका

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है.

कार पार्किंग में धमाका

ये धमाका रविवार शाम को वाघा सीमा पर फ़्लैग परेड के ख़त्म होने के थोड़ी देर बाद हुआ जब लोग कार पार्किंग की ओर जा रहे थे. पुलिस के अनुसार आत्मघाती हमलावर भी कार पार्किंग की जगह मौजूद था.

सीमा के दोनों ओर फ़्लैग परेड को देखने के लिए हज़ारों लोग मौजूद रहते हैं और ख़ासकर रविवार को छुट्टी का दिन होने के कारण इसे देखने वालों की संख्या कहीं ज़्यादो होती है.

इमेज कॉपीरइट AFP

डीजी रेंजर्स ताहिर ख़ान के अनुसार तीन रेंजर्स मारे गए हैं और पांच ज़ख़्मी हुए हैं.

लाहौर स्थित बीबीसी संवाददाता शुमैला जाफ़री ने बताया कि पाकिस्तान की राज्य सरकार ने मरने वालों के परिजनों को पांच लाख पाकिस्तानी रूपए और ज़ख़्मी लोगों के परिजनों को 75 हज़ार रूपए देने की घोषणा की है.

लाहौर के तमाम अस्पतालों में इमरजेंसी की घोषणा कर दी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार