कैसा होता है एक सीरियल किलर की बेटी होना?

इमेज कॉपीरइट Melissa Moore

1990 के दशक में कीथ जेसपर्सन अमरीका में हैप्पी फेस किलर के नाम से कुख्यात हुए थे. इस ट्रक ड्राइवर को आठ महिलाओं के साथ बलात्कार करने के बाद उनकी हत्या का दोषी पाया गया था.

ऐसे कुख्यात शख्स की बेटी को जब ये सच पहली बार मालूम हुआ तो उसने कैसे इसका सामना किया होगा?

कीथ जेसपर्सन की बेटी मेलिसा मूर बीबीसी के कार्यक्रम आउटलुक में बताया, "उन्हें अपनी गर्ल फ्रेंड जूली विनिनगेहम की हत्या के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था. लेकिन मुझे कुछ मालूम नहीं था. मेरी मां ने हमें इस बारे में कुछ नहीं बताया."

लेकिन सच्चाई ज्यादा दिन तक मूर से छिप नहीं सकी. उन्होंने कहा, "1995 में लाइब्रेरी में मैंने उनके मुकदमे की सुनवाई के बारे में रिपोर्ट देखी. इस सुनवाई के दौरान ही उन्होंने कई महिलाओं की हत्या की बात कबूली थी."

मार्च 1995 में पहली बार मेलिसा की मां ने अपने बच्चों को बताया कि उसके पिता को हत्या के आरोप में गिरफ़्तार किया गया. जब मेलिसा को ये मालूम हुआ तो वह अपने कमरे में जाकर बेड में मुंह छुपाकर रोने लगी थीं.

यकीन करना मुश्किल

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मेलिसा कहती हैं, "मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि मेरे पिता ने ऐसा कैसे किया?"

कीथ जेसपर्सन ने जिस महिला के साथ सबसे पहले बलात्कार कर, उसकी हत्या की वो टूंजा बेनेट थी. जनवरी, 1990 के आस-पास उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया था.

लेकिन इसका पता किसी को नहीं चला था. 1987 में जेसपर्सन अपने साथ 13 साल की बेटी मेलिसा को उस इलाके में लेकर गए थे, जहां उन्होंने टूंजा की हत्या की थी.

कोलंबियाई नदी के आस-पास वाले इलाके की यात्रा के बारे में मेलिसा ने कहा, "उस दिन मेरे पिता ने कहा था, मैं किसी की हत्या करना जानता हूं और हत्या के आरोप से बच निकलना भी. मुझे तब लगा कि वो कोई जासूसी कहानी सुना रहे हैं."

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मेलिसा मूर का परिवार इस सच्चाई को छिपाकर जीने लगा. वह अपने ब्वॉय फ्रेंड से अपने पिता का जिक्र कभी नहीं किया करती थीं.

बेटी ने मुश्किल में डाला

इमेज कॉपीरइट Melissa Moore
Image caption मेलिसा मूर को लगता है कि उनके पिता को फांसी की सजा होनी चाहिए.

मेलिसा की एक अच्छे इंसान से शादी हुई और बच्चे भी हुए. मई, 2008 में एक दिन उनकी बेटी ने उन्हें मुश्किल में डाल दिया.

मेलिसा ने बताया, "मेरी बेटी ने पूछा कि मम्मी, सबके पिता होते हैं, तुम्हारे पिता कहां हैं?"

मेलिसा सन्नाटे में आ गईं, लेकिन उन्होंने अपनी बेटी से कहा कि सालेम की जेल में उसके पिता कैद की सजा भुगत रहे थे.

लेकिन ये पूरा जवाब नहीं था, मेलिसा ने इसके बाद अपनी बेटी को पूरी बात बताई.

अपनी कहानी को उन्होंने शैटर्ड साइलेंस नाम की किताब के माध्यम से दुनिया को बताया. फिर 2009 में ऑपरा विन्फ्री के शो में गईं.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इसके बाद तो उनके पास दुनिया भर से फोन आने लगे. देखते-देखते मेलिसा मूर सीरियल किलर के परिवार वालों का एक नेटवर्क बनाने में कामयाब हो गईं. करीब 300 लोगों के परिवारों के लोग एक दूसरे के साथ अपने दर्द को बांटते हैं.

मेलिसा मूर कहती हैं कि उनके पिता को किसी भी मामले में फांसी की सजा नहीं हुई, ये सजा उन्हें मिलनी चाहिए थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार