अफ़ग़ानिस्तान में हमला, रूसी पर मुक़दमा

  • 5 नवंबर 2014
तालिबान के लड़ाके इमेज कॉपीरइट Reuters

आतंकवाद के आरोपों का सामना कर रहे रूसी सेना के एक पूर्व अधिकारी को मंगलवार को अमरीका के वर्जिनिया की एक संघीय अदालत में पेश किया गया.

एरिक इलिज़ हमीदुलिन को नवंबर 2009 में अमरीकी और अफ़ग़ान सुरक्षा बलों पर हमले के आरोप में अफ़ग़ानिस्तान में गिरफ़्तार किया गया था.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़ अमरीकी न्याय विभाग की ओर से जारी बयान के मुताबिक़ उन्हें सोमवार को संघीय जांच एजेंसी (एफ़बीआई) को सौंपा गया था.

तालिबान से संबंध

अमरीका की एक ग्रांड ज्यूरी ने पिछले महीने उनपर आरोप लगाए थे. उन पर 12 आरोप लगाए गए हैं. इनमें चरमपंथियों की मदद करने, अमरीकी सेना के वायुयान को तबाह करने का प्रयास करने और अमरीकी नागरिकों की हत्या के प्रयास के आरोप शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption एरिक इलिज़ हमीदुलिन पर तालिबान नेता मुल्ला उमर से संबंध रखने का आरोप लगाया गया है

ये आरोप अफ़ग़ानिस्तान में 29 नवंबर 2009 को पाकिस्तान से लगे ख़ोस्त प्रांत में अफ़ग़ान पुलिस के एक कैंप पर हमले से जुड़े हैं.

इनके मुताबिक़ हमीदुलिन ने हमला करने वाले चरमपंथियों के तीन गुटों का नेतृत्व किया. उन्होंने अमरीका सेना के एक हेलिकॉप्टर को मार गिराने की भी योजना बनाई.

इस हमले में अमरीकी और अफ़ग़ान सुरक्षा बलों ने कई चरमपंथियो को मार गिराया. अमरीकी और अफ़ग़ान सुरक्षा बल जब हमले में हुए नुक़सान का आकलन कर रहे थे तो हमीदुलिन ने उन पर हमला कर दिया.

हमीदुलिन 1980 के दशक में रूसी सेना के अधिकारी और टैंक कमांडर थे. आरोपों के मुताबिक़ वो 2001 में अफ़ग़ान तालिबान के नेता मुल्ला उमर के प्रशंशक बन गए.

अक्तूबर 2009 से वो तालिबान से संबंधित हक्कानी नेटवर्क के कमांडर सिराजुद्दीन से भी निर्देश लेने लगे थे.

न्याय विभाग के मुताबिक़ इन आरोपों में उन्हें अधिकतम उम्रक़ैद तक की सज़ा हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार