आईएस ने सिगरेट पीने पर उंगलियां काटी: यूएन

  • 14 नवंबर 2014
इस्लामिक स्टेट, सीरिया, रक्का इमेज कॉपीरइट AP

इस्लामिक स्टेट के कब्ज़े वाले सीरियाई इलाक़ों में लोगों पर अमानवीय ज़ुल्म किए जा रहे हैं.

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि सिगरेट पीते पकड़े जाने वाले आदमियों की उंगलियां काटी जा रही हैं और 'अनुचित' कपड़े पहनने पर महिलाओं को कोड़े मारे जा रहे हैं या पत्थर मारकर हत्या की जा रही है.

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार जांचकर्ताओं ने यह रिपोर्ट 300 से ज़्यादा प्रत्यक्षदर्शियों के बयान के साथ ही आईएस चरमपंथियों के वितरित वीडियो और फ़ोटो के आधार पर तैयार की है.

'नृशंसता'

इमेज कॉपीरइट AP

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस्लामिक स्टेट एक बहुत संगठित और वर्गीकृत समूह है और यह अपने दीर्घकालीन उद्देश्यों की पूर्ति के लिए लोगों से अपनी बातें मनवाने के लिए नृशंसता कर रहा है.

(बग़दादी के बिना आईएस का क्या होगा?)

समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस के अनुसार जांच आयोग की सदस्य वितित मुन्तारभोर्न ने जिनेवा में रिपोर्टरों को बताया कि रिपोर्ट का उद्देश्य पीड़ितों की आवाज़ को दुनिया तक पहुंचाना है.

इमेज कॉपीरइट AP

मानवाधिकार संस्थाएं आईएस के नियंत्रण वाले दीर एल-ज़ोर और रक्का प्रांतों में करीब 6,00,000 लोगों तक नहीं पहुंच पा रही हैं और इस चरमपंथी समूह ने हसाकेह प्रांत में डॉक्टरों, नर्सों और दवाइयों के जाने पर रोक लगा दी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार