कासिग के हत्यारों की पहचान की कोशिश

  • 17 नवंबर 2014
इमेज कॉपीरइट

पश्चिमी देशों के खुफ़िया अधिकारी इस्लामिक स्टेट के एक वीडियो में दिखाए गए चरमपंथियों की पहचान करने में जुटे हैं. इन चरमपंथियों को अमरीकी राहतकर्मी अब्दुल रहमान कासिग और सीरिया के 18 क़ैदियों की हत्या करते हुए दिखाया गया है.

26 वर्षीय कासिग पश्चिमी देशों के पांचवे नागरिक हैं जिन्हें चरमपंथी गुट इस्लामिक स्टेट ने मार डाला है.

फ्रांस के आंतरिक मामलों के मंत्री के अनुसार वीडियो में दिखाया गया एक चरमपंथी फ्रांस का नागरिक हो सकता है जिसका नाम मैक्सिम हाउचार्ड है और उम्र 22 साल है.

एक अन्य चरमपंथी को ब्रितानी नागरिक नासर मुथाना बताया जा रहा था जिसकी उम्र बीस साल है. लेकिन अब मुथाना के पिता का कहना है कि वीडियो में दिख रहा युवक उनका बेटा नहीं है.

इमेज कॉपीरइट AP

डेली मेल अख़बार ने पहले रिपोर्ट दी थी कि मुथाना के पिता ने कहा है कि वीडियो में दिख रहा युवक उनके बेटे जैसा है. इस वीडियो में 16 चरमपंथी दिख रहे हैं.

सीरिया के क़ैदियों की भी हत्या

इमेज कॉपीरइट Reuters

आईएस के 16 मिनट के इस वीडियो में एक कटे हुए सिर के ऊपर एक चरमपंथी खड़ा है. व्हाइट हाउस ने पुष्टि की है कि ये कटा हुआ सिर कासिग का है.

कासिग को इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों ने अक्तूबर 2013 में उस समय पकड़ लिया था जब वो पूर्वी सीरिया के दीर एज़ोर जा रहे थे.

कासिग के माता-पिता एड और पॉउला ने बयान जारी कर कहा है कि कासिग की मौत से उनके दिल टूट गए हैं.

उनका कहना था, ‘‘हमें अपने बेटे के काम पर गर्व है. मानवता के लिए उनके काम को हम हर दिन जारी रखेंगे.’’

इस्लामिक स्टेट के ताज़ा वीडियो में 18 सीरियाई कैदियों की हत्या करते हुए दिखाया गया है जिनकी पहचान सेना के अधिकारी और पायलट के रुप में की गई है.

इस्लामिक स्टेट के पूर्व में जारी किए गए वीडियो के उलट इसमें कई चरमपंथियों के चेहरे भी देखे जा सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार