भारत के चलते 'मुहिम' पर असर: राहील

राहील शरीफ़ इमेज कॉपीरइट Reuters

पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल राहील शरीफ़ ने वरिष्ठ अमरीकी अधिकारियों से कहा है कि भारत की वजह से उन्हें अफ़ग़ानिस्तान की सीमा पर चरमपंथियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई में परेशानियां आ रही हैं.

जनरल राहील शरीफ़ इन दिनों अमरीका की यात्रा पर हैं.

वाशिंगटन स्थित एक अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि राहील शरीफ़ ने अमरीकी अधिकारियों से कहा है कि पाकिस्तान ने पश्चिमी सीमा पर एक लाख चालीस हज़ार सैनिक तैनात कर रखे हैं और उन्हें ये भरोसा दिलाया गया था कि भारतीय सीमा पर शांति बनी रहेगी.

राहील की शिकायत

उस अधिकारी का कहना था, "राहील शरीफ़ ने अमरीका से कहा है कि भारत की तरफ़ से जिस तरह की सख़्त कार्रवाई हो रही है और जिस तरह के बयान आ रहे हैं वो अफ़ग़ानिस्तान में हमारी मुहिम पर असर डाल रहे हैं."

इमेज कॉपीरइट AFP

इस शिकायत पर अमरीकी प्रतिक्रिया के बारे में कुछ नहीं पता चल पाया है, लेकिन विश्लेषकों का कहना है कि अमरीका अब भारत-पाकिस्तान के मामलों में मध्यस्थता करने से दूर रहता है.

राहील शरीफ़ बुधवार को अमरीकी कांग्रेस के सदस्यों से मुलाक़ात कर रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि वो कांग्रेस के सामने उत्तरी वज़ीरिस्तान में चरमपंथियों के ख़िलाफ़ हुई कार्रवाई का ब्यौरा पेश करेंगे.

इसके अलावा शरीफ़ अफ़ग़ानिस्तान से अमरीकी फ़ौज की वापसी के बाद अमरीका-पाकिस्तान की रणनीतिक साझेदारी पर भी बात करेंगे.

विश्लेषकों का कहना है कि वो उत्तरी वज़ीरिस्तान में हुई कार्रवाई को एक मिसाल की तरह पेश करेंगे और अमरीका से पाकिस्तान को मिलने वाली फ़ौजी मदद जारी रखने की मांग करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार