ज़िंबाब्वेः स्टेडियम में भगदड़, 11 की मौत

ज़िंबाब्वे धार्मिक कार्यक्रम इमेज कॉपीरइट phd ministries facebook

ज़िंबाब्वे में एक स्टेडियम में धार्मिक कार्यक्रम के बाद मची भगदड़ में 11 लोगों की मौत हो गई है.

पुलिस के अनुसार क्वेक्वे क़स्बे में चार लोगों की मौत स्टेडियम में ही हो गई थी जबकि सात अन्य को अस्पताल लाए जाने पर मृत घोषित किया गया.

यह भगदड़ तब मची जब स्टेडियम में एकत्र हज़ारों श्रद्धालु लोकप्रिय पेनटेकोस्टल प्रीचर (उपदेशक) वाल्टर मगाया के कार्यक्रम के बाद जाने के लिए जल्दबाज़ी करने लगे.

मगाया लोगों को चमत्कार के ज़रिए ठीक करने का दावा करते हैं.

'दुखद पल'

कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने स्टेडियम से बाहर जाने के ज़्यादातर रास्ते बंद कर दिए थे और जब लोग एकमात्र खुले रास्ते से बाहर जाने के लिए संघर्ष कर रहे थे तो उन पर आंसूगैस के गोले दाग़े गए.

पुलिस ने आंसू गैस के गोले दाग़ने से इनकार किया है.

प्रोफ़ेटिक हीलिंग और डिलिवरनेस (पीएचडी) सेवा के प्रमुख मगाया ने एक स्थानीय समाचार पत्र से कहा कि जिस समय उन्हें मौतों की जानकारी मिली तो वह "मेरी ज़िंदगी का सबसे दुखद पल था".

वह ज़िंबाब्वे के सबसे लोकप्रिय प्रीचर बताए जाते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार