बोको हराम ने 48 मछुआरों की हत्या की

बोको हराम, 48 मछुआरों की हत्या इमेज कॉपीरइट Reuters

नाइजीरिया-चाड सीमा के पास इस्लामी चरमपंथी समूह बोको हराम के हमले में 48 मछुआरों की मौत हो गई है.

मछली कारोबारियों के एक समूह के अनुसार मारे गए मछुआरों के हाथ-पांव बंधे हुए थे और उनमें से कुछ को गला काटकर और बाकियों को चाड झील में डुबोकर मारा गया है.

ये हमला गुरुवार को हुआ था. इलाके में बोको हराम ने मोबाइल फोन के खंभे तोड़ दिए जिस वजह से इसकी जानकारी तीन दिन बाद मिली.

मत्स्य कारोबारी संगठन के मुखिया अबूबकर गामांडी ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "चरमपंथियों ने 48 मछुआरों पर हमले में बंदूक का इस्तेमाल इसलिए नहीं किया ताकि इलाके में मौजूद लोगों को इसकी भनक न लगे."

माना जा रहा है कि इस हमले का उद्देश्य उस समुदाय से बदला लेना था जिन्होंने उनके चार साथियों को नाइजीरियाई सैनिकों को सौंप दिया था जिन्हें बाद में मार डाला गया.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बोको हराम के बोरनो शहर पर हमले में कम से कम 45 लोगों की मौत हो गई थी.

पिछले एक साल से सेना के बोको हराम के खिलाफ सैन्य अभियान चलाए जाने के कारण नागरिकों पर चरमपंथियों के हमले तेज हो गए हैं.

बोको हराम ने नाइजीरिया में साल 2009 से ही विद्रोह छेड़ रखा है.

इससे पहले बुधवार को बोको हराम के हथियारबंद लड़ाकों ने बोरनो शहर और अजाया कुरा गांव में हमला कर कम से कम 45 लोगों की हत्या कर दी थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार