ईरान: परमाणु मुद्दे पर समयसीमा बढ़ी

  • 24 नवंबर 2014
ईरान परमाणु कार्यक्रम इमेज कॉपीरइट Other

ईरान के विवादित परमाणु कार्यक्रम को लेकर विएना में चल रही बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला है.

ईरान के परमाणु कार्यक्रम को लेकर विश्व की छह महाशक्तियों ने जो समयसीमा तय की थी वो आज ख़त्म हो गई है.

छह विश्व शक्तियाँ चाहती हैं कि अमरीकी प्रतिबंधों को हटाए जाने की एवज में ईरान अपना परमाणु कार्यक्रम सीमित करे.

बातचीत में शामिल राजनयिक सूत्रों का कहना है कि समय सीमा अगले साल जून अंत तक बढ़ाई जाए.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के अनुसार ब्रिटेन के विदेश मंत्री फिलिप हेमंड ने कहा है कि परमाणु समझौते पर आज तक की तय समयसीमा थी लेकिन किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा जा सका है.

हेमंड ने कहा, "समयसीमा तक किसी समझौते पर पहुंचना संभव नहीं था....इसलिए हमने समयसीमा को बढ़ाकर 30 जून 2015 कर दिया."

इमेज कॉपीरइट Other

सूत्रों का कहना है कि इस बारे में राजनीतिक समझौता अगले साल मार्च तक होने की संभावना है.

ब्रिटेन, चीन, फ्रांस, रूस, अमरीका और जर्मनी के प्रतिनिधि ऑस्ट्रिया के विएना में बातचीत में शामिल थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार