इबोला: शवों को दफ़नाने से इनकार

  • 26 नवंबर 2014
इमेज कॉपीरइट AFP

सिएरा लियोन में सरकार ने हड़ताल पर गए कर्मचारियों को बर्ख़ास्त कर दिया है.

इन कर्मचारियों ने इबोला वायरस की वजह से मारे गए लोगों को दफ़नाने से इनकार कर दिया था.

इन कर्मचारियों की नाराज़गी इस बात पर थी कि सरकार ने इतनी ख़तरनाक बीमारी होने के बावजूद उन्हें अक्तूबर और नवंबर के महीने के लिए पूरा भत्ता नहीं दिया.

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने अपना विरोध जताते हुए 15 शवों को किनिमा शहर के अस्पताल के बाहर छोड़ दिया था.

सरकार का कहना है कि वे इस मामले पर जांच का गठन करेगी और विश्व बैंक ने क्षेत्रीय स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए इस बीमारी से होने वाले ख़तरे के एवज में भत्ता देने के लिए फंड देने को राज़ी हो गया है.

अधिकारियों का कहना है कि इन कर्मचारियों को शवों के साथ 'अमानवीय व्यवहार' करने के लिए बर्ख़ास्त किया गया है.

सिएरा लियोन इबोला से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले देशों में से एक है जहां अब तक इस वायरस से 1200 लोगों की मौत हो चुकी हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार