इराक़ी सेना में '50 हज़ार भूत सैनिक'

  • 1 दिसंबर 2014
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इराक़ी सेना में हुई एक जांच से ऐसे लगभग 50 हज़ार सैनिकों का पता चला है जिनके नाम से वेतन तो लिया जा रहा है, लेकिन असल में उनका अता-पता नहीं है.

ऐसे सैनिकों को 'भूत सैनिक' का नाम दिया गया है. अब प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ़ से जारी बयान में कहा गया है कि इन सैनिकों के नाम पर दिए जाने वाले वेतन पर रोक लगा दी गई है.

संवाददाताओं का कहना है कि इराक़ी सेना में भ्रष्टाचार एक बड़ी समस्या है जिसके चलते इस्लामिक स्टेट से निपटने की उसकी क्षमता भी प्रभावित होती है.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के अनुसार इराक़ी प्रधानमंत्री हैदर अल-अबादी के प्रवक्ता रफ़ीद जबूरी ने कहा, "पिछले कुछ हफ़्तों से प्रधानमंत्री इन भूत सैनिकों के मामले को उजागर करने और इस मामले की तह तक जाने के लिए क़दम उठा रहे थे."

आईएस की चुनौती

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इराक़ी सेना के लिए इस्लामिक स्टेट एक बड़ी चुनौती बना हुआ है

माना जाता है कि ये वेतन सेना के भ्रष्ट अधिकारी निकाल रहे थे.

एक अधिकारी ने एएफ़पी को बताया कि लगभग इन 50 हज़ार सैनिकों में ऐसे सैनिकों के नाम भी शामिल हैं जो या तो हालिया लडाई में मारे गए हैं या फिर सेना को छोड़ चुके हैं.

इराक़ी सेना को खड़ा करने में अमरीका ने अरबों डॉलर ख़र्च किए हैं.

लेकिन हाल के महीनों में इराक़ी सेना चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ लाचार दिखती रही है और इराक के एक बड़े इलाके पर आईएस का नियंत्रण हो चुका है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार