'हनीमून मर्डर': पति आरोपों से बरी

इमेज कॉपीरइट AFP Getty Images

दक्षिण अफ्रीका की अदालत ने ब्रितानी कारोबारी शिरीन देवानी को अपनी पत्नी एनी की हत्या करवाने के आरोपों से बरी कर दिया है.

जज जीनेट ट्रावर्सो ने कहा कि अभियोजन पक्ष की तरफ़ से जो भी सबूत पेश किए गए हैं वो अभियुक्त को दोषी साबित करने के लिए पर्याप्त नहीं हैं.

एनी देवानी के परिवार ने अदालत के फ़ैसले पर निराशा जताई है और कहा है कि पूरी कहानी को सुना ही नहीं गया है.

जज ने कहा कि अभियोजन पक्ष की तरफ़ से मुख्य चश्मदीद के तौर पर टैक्सी ड्राइवर ज़ोला टोंगो को पेश किया गया लेकिन वो अपने बयानों को बार-बार बदलते रहे हैं.

ये मामला 2010 का है जब देवानी हनीमून पर दक्षिण अफ्रीका थे कि उनकी पत्नी एनी की हत्या हो गई.

'आरोप साबित नहीं हुए'

इमेज कॉपीरइट PA

देवानी पर अपनी पत्नी की हत्या की योजना बनाने के आरोप लगे थे.

उन्हें इसी साल ब्रिटेन से दक्षिण अफ्रीका प्रत्यर्पित किया गया था ताकि वो मुक़दमे का सामना कर सके.

अभियोजकों का आरोप था कि शिरीन देवानी बाइसेक्सुअल हैं और इसीलिए वो एनी के साथ अपने रिश्ते से बाहर आना चाहते थे और इसीलिए ये हत्या हुई.

लेकिन जज ट्रावेर्सो ने सोमवार को फ़ैसला देते हुए कहा, "अभियुक्त पर आरोप साबित नहीं हुए हैं."

अब देवानी को रिहा कर दिया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)