बाल्टिक में अभूतपूर्व रूसी तेज़ी: पोलैंड

russia in baltic इमेज कॉपीरइट Reuters

रूस की नौसेना और वायु सेना बाल्टिक सागर के क्षेत्र में इस हफ़्ते काफी ज़्यादा सक्रिय रही है. पोलैंड ने रूसी सेना की गतिविधियों को, "अभूतपूर्व" कहा है.

रक्षा मंत्री टॉमस सिमोनियाक का कहना है कि ज्यादातर गतिविधियां अंतरराष्ट्रीय जल और वायु क्षेत्र में हुई हैं और इसका सबसे ज़्यादा असर स्वीडन पर पड़ा है.

बाल्टिक देशों में नाटो के सहयोगी देश के सैन्य जेट विमान इलाके के वायु क्षेत्र में गश्त के मिशन पर हैं और इस दौरान रूसी विमानों पर नजर रखी गई है.

यूक्रेन में लड़ाई ने इलाक़े में तनाव बढ़ा दिया है.

हमला नहीं जायज़ा

रक्षा मंत्री सिमोनियाक ने कहा है कि "रूस हमले की तैयारी नहीं" कर रहा है लेकिन वह नाटो की सुरक्षा का जायज़ा ले रहा है. सिमोनियाक ने कहा है कि यह अच्छे रिश्ते के लिए ठीक नहीं.

इमेज कॉपीरइट finnish air force

मंगलवार को नॉर्वे की सेना ने कहा कि उसका एक जंगी जहाज रूस के जंगी जहाज के बिल्कुल करीब आ गया था.

फिनलैंड की वायु सेना का कहना है कि बाल्टिक सागर औऱ फिनलैंड की खाड़ी में रूसी सेना की गतिविधि "अप्रत्याशित रूप से तीव्र" रही है ज्यदातर उड़ानें बमवर्षक, लड़ाकू और परिवहन विमानों के रहे हैं.

नाटो ने सोमवार को कहा कि उसके जहाजों ने बाल्टिक के क्षेत्र में कई बार रूसी विमानों का रास्ता रोका. इलाके में 30 से ज़्यादा तरह के विमान नजर आए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार