रूस से सामान्य संबंध का समय नहीं: अमरीका

इमेज कॉपीरइट AP

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के हालिया भारत दौरे में दोनों देशों के बीच हुए समझौतों पर अमरीका ने सधी हुई प्रतिक्रिया दी है.

अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता जेन साकी से जब दोनों देशों के बीच परमाणु क्षेत्र में सहयोग और रूसी और भारतीय मुद्राओं में व्यापार पर सहमित के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "हम यही कहेंगे कि अभी रूस के साथ सामान्य संबंध का समय नहीं आया है. बाक़ी हमें विस्तार से देखना होगा कि इन समझौतों में क्या कहा गया है."

उन्होंने कहा, "हमने व्यापार, परमाणु और रक्षा क्षेत्रों में समझौतों के बारे में रिपोर्टें देखी हैं, लेकिन अभी पुष्टि नहीं हुई है कि उनमें विशेष तौर पर कौन कौन की बातें शामिल हैं."

पुतिन के दो दिन के दौरे में भारत में दस और परमाणु संयंत्र स्थापित करने की योजना पर चर्चा हुई.

अगले महीने अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा भारत के गणतंत्र दिवस पर विशेष अतिथि होंगे. उनसे पहले पुतिन की भारत यात्रा को काफ़ी अहम माना गया.

नाराज़गी

इमेज कॉपीरइट epa
Image caption 26 जनवरी पर विशेष अथिति होंगे ओबामा

अमरीकी प्रवक्ता ने इस ख़बरों पर भी प्रतिक्रिया दी कि रूसी राष्ट्रपति के प्रतिनिधिमंडल में संभवतः क्राइमिया क्षेत्र के नेता भी शामिल थे.

उन्होंने कहा, "हम समझते हैं कि भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वो उन्हें इस बारे में आधिकारिक तौर पर जानकारी नहीं थी"

इसी साल पूर्वी यूक्रेन का हिस्सा क्राइमिया रूस में शामिल हो गया और यूक्रेन संकट के कारण पश्चिमी देशों का रूस के साथ तनाव चल रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार