होटल कम हैं, नहीं होगा म्यूज़िक अवॉर्ड

हेलसिंकी इमेज कॉपीरइट WIKIMEDIA. KFP

फ़िनलैंड की राजधानी हेलसिंकी में एक प्रुमख संगीत समारोह इसलिए आयोजित नहीं हो पा रहा क्योंकि वहां पर्याप्त मात्रा में विलासितापूर्ण होटल नहीं हैं.

राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता वाइल (Yle) टीवी के अनुसार स्थानीय अधिकारियों को उम्मीद थी कि 2016 में एमटीवी यूरोप म्यूज़िक सालाना अवार्ड्स शहर में होंगे लेकिन आयोजकों ने इसके विपरीत फ़ैसला लिया.

हेलसिंकी में आयोजन न करवाने के फ़ैसले की एक वजह यह थी कि शहर में पांच-सितारा होटलों का अभाव है, जिसकी ज़रूरत संगीत जगत के सितारों को पड़ेगी.

हेलसिंकी की आर्थिक विकास निदेशक मार्जा-लीना रिंकिनेवा कहती हैं, "शहर में बड़े सितारे और बेहद ख़ास मेहमानों की भरमार होगी."

"हम लोग सैकड़ों की संख्या में ऐसे लोगों के बारे में बात कर रहे हैं और उनके ठहरने के लिए सर्वोत्तम दर्ज के होटलों की ज़रूरत होगी."

'संसद में ठहरा दें'

हालांकि हेलसिंकी पर्यटन बोर्ड के जारी एहजोहार्जु ने इस वजह को 'थोड़ा अजीब' बताया है.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption एमटीवी म्यूज़िक अवार्ड 2014 ग्लासगो में आयोजित हुए

वह कहते हैं, "हेलसिंकी में विश्व स्तर के, अलग-अलग क़िस्म के बड़े आयोजन हुए हैं और यहां पर्याप्त मात्रा में ठहरने की जगहें हैं."

सोशल मीडिया पर यूज़र्स ने इस ख़बर पर आश्चर्य नहीं जताया बल्कि तंज़ के साथ प्रतिक्रियाएं व्यक्त की हैं.

इल्टा सेनोमैट अख़बार की वेबसाइट में एक व्यक्ति ने लिखा, "क्या यह दुखद नहीं है कि हेलसिंकी में ऐसे युवाओं के ठहरने के लिए महल-नुमा विलासितापूर्ण स्थान नहीं हैं जो यह समझते हैं वह दुनिया के राजा या रानी हैं."

"हमें उन्हें राष्ट्रपति भवन और संसद भवन में ठहरा देना चाहिए- इसके अलावा कुछ भी पर्याप्त नहीं होगा."

कुछ लोगों को लगता है कि दिक़्क़त यह है कि होटल कितने महंगे हैं लेकिन एक यूज़र को इससे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता.

"दुनिया के सबसे शक्तिशाली राजनेताओं के लिए हेलसिंकी ठीक था लेकिन इस झुंड के लिए यह नहीं है. इस की परवाह किसे है- यूं भी हम अच्छे संगीत की बात नहीं कर रहे."

(बीबीसी न्यूज़ फ़्रॉम एल्सवेयर दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. बीबीसी न्यूज़ फ़्रॉम एल्सवेयर की ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार