ईश निंदा के आरोपी को सरेआम गोली मारी

पाकिस्तान इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान पुलिस के मुताबिक़ ईशनिंदा के मामले में जेल से सज़ा काटकर लौटे एक व्यक्ति को गोली मार दी गई.

यह वाक़या पाकिस्तान के तक्षशिला शहर का है.

स्थानीय पुलिस का कहना है ''मक़तूल ग़ुलाम आबिद की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी और ऐसा लगता है कि ईश निंदा के मामले में ही उन पर यह हमला हुआ है.''

पुलिस का कहना है कि आबिद कुछ दिन पहले ही ईश निंदा के मामले में जेल से ज़मानत पर रिहा होकर घर आए थे.

इमेज कॉपीरइट AP

आबिद अपने घर से खाने का कुछ सामान लेने के लिए निकले थे, तभी उन पर अंधाधुंध गोलियां चलाईं गई. इससे उनकी मौक़े पर ही मौत हो गई.

पुलिस के अनुसार पीड़ित के शरीर पर दस से ज़्यादा गोलियों के निशान थे. अभी तक वारदात में शामिल आरोपियों को गिरफ़्तार नहीं किया जा सका है.

स्थानीय पुलिस के मुताबिक़ आबिद ने पैग़ंबर होने का दावा किया था, जिसके ख़िलाफ़ 2011 में स्थानीय धार्मिक नेताओं और अन्य लोगों ने प्रदर्शन किया था और उन पर दर्ज किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार