हमले के बाद शार्ली एब्डो का पहला अंक

शार्ली एब्डो इमेज कॉपीरइट Getty

फ्रांस में व्यंग्य पत्रिका "शार्ली एब्डो" बुधवार को नए तेवर के साथ फिर से प्रकाशित हुई है.

बस एक हफ्ते पहले ही पत्रिका के दफ्तर पर घातक चरमपंथी हमला हुआ था.

फ्रांस की जानी-मानी पत्रिका "शार्ली एब्डो" के ताजे अंक के कवर पेज पर पैगम्बर मोहम्मद का कार्टून छापा गया है.

पत्रिका की लाखों प्रतियां छापी गई हैं. आम तौर पर हर सप्ताह इसकी 60,000 प्रतियां ही छपती हैं.

पिछले बुधवार को इस्लाम के कथित अपमान के लिए हुए चरमपंथी हमले में पत्रिका के 8 कार्टूनिस्टों सहित 12 लोग मारे गए थे.

ऐसा माना जाता है कि पत्रिका द्वारा पैगम्बर का कार्टून प्रकाशित किए जाने के कारण यह हमला हुआ था.

हमले

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption शार्ली एब्डो के चीफ़ एडिटर गेरार्ड बियार्ड.

कवर पेज पर पैगम्बर को अपने हाथों में 'मैं शार्ली हूं' की तख्ती लिए रोते हुए दिखाया गया है."

हमले के बाद जगह जगह हुई रैली और प्रदर्शनों में 'मैं शार्ली हूं' गूंजता रहा.

पेरिस में इस हमले के दो दिन बाद ही एक और हमला हुआ था, जो यहूदी सुपरमार्केट पर किया गया था. इसमें चार यहूदी मारे गए थे.

फ्रांस में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है.

सभाओं, मस्जिदों और हवाईअड्डों सहित देश भर में जगह जगह करीब 10,000 सैनिक तैनात किए गए हैं.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार