चरमपंथी विरोधी हमले के बाद हाई अलर्ट

  • 16 जनवरी 2015
एरिक वानडर सिप्ट इमेज कॉपीरइट AP

पूर्वी बेल्जियम के वेरविए शहर में पुलिस के चरमपंथ विरोधी अभियान में दो संदिग्ध चरमपंथियों के मारे जाने के बाद पूरे देश में हाई अलर्ट जारी किया गया है.

इस अभियान में जख़्मी हालत में एक को गिरफ़्तार भी किया गया है.

अधिकारियों का कहना है कि जिन लोगों को अभियान में निशाना बनाया गया है, वो सीरिया से लौटे संदिग्ध जिहादी हैं और उन्होंने पुलिस पर हमले की योजना बनाई थी.

ब्रसेल्स के इलाके में रात भर तलाशी अभियान चला है.

संघीय अभियोजक कार्यालय के प्रवक्ता एरिक वानडर सिप्ट ने पत्रकारों को बताया कि इस मुठभेड़ के बाद चरमपंथी हमले का ख़तरा बढ़ गया है.

छापेमारी

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने बताया, ''संदिग्धों ने पुलिस को देखते ही गोलियां चलानी शुरू कर दीं. उनके पास अत्याधुनिक हथियार थे जो सेना के पास होते हैं. साथ ही हथगोले भी थे. पुलिस को बड़े पैमाने पर हमले की सूचना मिली थी और उसी के तहत यह छापेमारी शुरू की गई.''

इससे पहले दो संदिग्ध इस्लामी चरमपंथियों को ब्रसेल्स के पास शेवंटर्न शहर से गिरफ्तार किया गया था. ये घटना फ्रांस में शार्ली एब्डो पत्रिका के दफ़्तर पर हमले के एक हफ़्ते बाद हुई है, जिसमें 17 लोग मारे गए थे.

वेरविए शहर बेल्जियम के लीज प्रांत में है और इसकी कुल आबादी क़रीब 56 हज़ार है.

बेल्जियम के मीडिया के मुताबिक़ फ्रांस के हमले में इस्तेमाल कुछ हथियार ब्रसेल्स पहुंचाए गए हैं. हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार