पेरिस: बंदूक़धारी पुलिस के क़ब्ज़े में

पुलिस इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पेरिस पुलिस के अनुसार उस बंदूक़धारी को क़ब्ज़े में ले लिया गया है, जिसने एक पोस्ट-ऑफ़िस में कुछ लोगों को बंधक बना लिया था.

पुलिस के अनुसार इस व्यक्ति ने ख़ुद को पुलिस को हवाले कर दिया. दोनों पक्षों के तरफ़ से किसी तरह की गोलीबारी नहीं हुई है.

पेरिस पुलिस के एक प्रवक्ता के अनुसार बंदूक़धारी मानसिक रूप से तनावग्रस्त प्रतीत हो रहा है.

पुलिस के अनुसार अभी तक इस घटना का चरमपंथ से कोई संबंध नहीं मालूम पड़ता है.

ख़बर मिलते ही पुलिस ने पेरिस के उत्तर-पश्चिमी में स्थित कोलंबेस इलाक़े को घेरा लिया. एक हेलिकॉप्टर भी घटनास्थल का गश्त लगा रहा था.

फ़्रांस की राजधानी पेरिस में पिछले हफ़्ते हुए अलग-अलग हमलों में 17 लोगों के मारे गए थे.

12 लोगों से पूछताछ

इमेज कॉपीरइट Reuters

गुरुवार को पेरिस पुलिस ने 12 लोगों को पकड़ा. जिनसे हमलावरों की संभावित मदद करने को लेकर पूछताछ की जा रही है.

न्यायालय के एक सूत्र ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि संभव है कि इन लोगों ने हमलावरों को हथियार या गाड़ी जैसी चीज़ें उपलब्ध कराई हों.

हिंसा की शुरुआत पिछले हफ़्ते पेरिस में व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्डो के दफ़्तर पर हुए हमले से हुई थी. दो बंदूक़धारियों ने पत्रिका पर हमला करके 12 लोगों को मार दिया था.

एक अन्य बंदूक़धारी ने कोशेर सुपरमार्केट में चार लोगों की हत्या कर दी थी. वहीं अगले दिन एक अन्य पुलिसकर्मी की उस वक़्त हत्या हो गई जब वो एक सड़क दुर्घटना के बाद कार्रवाई की कोशिश कर रहे थे.

तीनों बंदूक़धारी बाद में पुलिस से हुई मुठभेड़ में मारे गए थे.

स्पेन में जाँच

इमेज कॉपीरइट AFP

स्पेन में भी इस मामले से संबंधित जाँच शुरू हो गई है.

पेरिस में हमला करने वाले एमेडी कॉलिबैली ने घटना से एक दिन पहले स्पेन के मैड्रिड शहर कौ दौरा किया था.

घटना के बाद प्रकाशित शार्ली एब्डो के ताज़ा अंक की 50 लाख प्रतियाँ बिकी हैं. इससे पहले पत्रिका की क़रीब 50 हज़ार प्रतियाँ ही प्रकाशित होती थीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार