पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की 'संपत्ति ग़ैरक़ानूनी'

  • 18 जनवरी 2015
पीआईए की 'संपत्ति ग़ैरक़ानूनी'  क़रार इमेज कॉपीरइट BBC World Service

भारत की राजधानी दिल्ली में पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के कार्यालयों के लिए ख़रीदी गई जमीन को अवैध करार देने के मामले पर पाकिस्तान ने पीआईए से कहा है कि वह कानूनी रास्ता अपनाए.

पीआईए के प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय अधिकारियों को नई दिल्ली में पीआईए के कार्यालय को अपनी संपत्ति से संबंधित मिलने वाले नोटिस के बारे में आगाह कर दिया गया है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी किए गए एक बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान ने भारत के साथ दिल्ली में तैनात पीआईए के कर्मचारियों के वीज़ा के विस्तार का मामला उठाया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बयान में उम्मीद ज़ाहिर की है कि यह समस्या जल्द हल कर ली जाएगी.

पीआईए को नोटिस

इमेज कॉपीरइट PA

समाचार पत्र 'द हिंदू' के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय ने पीआईए को नोटिस दिया है जिसमें पीआईए के कार्यालय के लिए ख़रीदी गई संपत्ति को 'अवैध' क़रार दिया है.

निदेशालय के अनुसार पीआईए ने यह जगह रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार हासिल नहीं की है.

हालांकि 'द हिंदू' से बात करते हुए पीआईए के उत्तरी भारत में संचालन प्रबंधक सईद अहमद ख़ान ने कहा कि 2005 में दिल्ली में कनॉट प्लेस में कार्यालय के लिए जगह ली गई थी.

उनका कहना था कि इसी जगह से पीआईए लगभग एक दशक से काम कर रहा है. 'यह बात समझ से परे है कि भारत अब यह क़दम क्यों उठा रहा है. हम कार्यालय के बिना कैसे संचालन जारी रखेंगे'.

अखबार के मुताबिक यह मामला पिछले दो महीने से चल रहा है लेकिन समाधान नहीं हो सका है.

नोटिस के जवाब में पीआईए ने कहा है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को संपत्ति की खरीद की सूचना 20 जून 2005 को 'आई पी आई फार्म' के माध्यम से दे दी गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार