कराची: हत्या के बाद पोलियो अभियान रुका

पाकिस्तान में हर साल सामने आ रहे हैं पोलियो के नए मामले इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान के कराची शहर में पोलियो टीकाकरण के काम में लगे लोगों की सुरक्षा के लिए तैनात एक पुलिसकर्मी की गोली मार कर हत्या कर दी गई है.

इसके बाद शहर में पोलियो टीकाकरण का काम फ़िलहाल रोक दिया गया है.

अज्ञात बंदूकधारियों ने ओरंगी कस्बे में इस वारदात को अंज़ाम दिया है. यह हमला उस वक़्त हुआ, जब स्वास्थ्यकर्मी ग़रीबों की बस्ती में घर घर जाकर पोलियो ड्रॉप पिला रहे थे.

रिपोर्टों में कहा गया है कि हमलावर मोटरसाइकिल पर आए थे और हमले के बाद पुलिस ने जवाबी फ़ायरिंग की तो भाग गए.

इस महीने की शुरुआत में भी सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान में पोलियो टीकाकरण अभियान रोक दिया गया था.

पोलियो के विरोध में तालिबान?

इमेज कॉपीरइट EPA

इसके पहले तालिबान और दूसरे चरमपंथी गुटों ने पोलियो टीकाकरण के काम में लगे कार्यकर्ताओं पर हमले किए थे.

उनका आरोप है कि टीकाकरण की आड़ में जासूसी की जाती है. उनका ये भी कहना है कि टीकाकरण से प्रजनन क्षमता पर बुरा असर पड़ता है.

बीते साल पाकिस्तान में पोलियो के तीन सौ से ज़्यादा नए मामले सामने आए था. पिछले 16 साल में पोलियो के नए मामलों के सामने आने का यह रिकार्ड है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार