नेपाल की संविधान सभा में मारपीट, तीन घायल

  • 20 जनवरी 2015
नेपाल चुनाव

नेपाल की संविधान सभा की बैठक में मारपीट के कारण तीन सुरक्षाकर्मियों घायल हुए हैं.

बैठक के दौरान कुछ विपक्षी सांसदों ने मारपीट शुरू की. नेपाल के संविधान को अंतिम रूप देने की समय सीमा में बस दो दिन बाक़ी हैं.

संविधान सभा सचिवालय के प्रवक्ता मुकुंद शर्मा ने बीबीसी को बताया कि तीनों सुरक्षाकर्मियों को तत्काल अस्पताल ले जाया गया.

तीनों सुरक्षाबल सांसदों के बीच हो रही मारपीट को रोकने की कोशिश के दौरान घायल हो गए थे. स्थानीय समय के अनुसार रात 1.30 बजे के बाद संविधान सभा के बैठक में यह घटना घटी.

संविधान सभा के सभापति सुभाष नेमवांग ने जब प्रस्तावित नए संविधान के विवादित मुद्दों की प्रश्नावली पर मतदान शुरू करने की पहल की तभी विवाद शुरू हो गया. नेपाल के प्रस्तावित नए संविधान पर सहमति बनाने के कई हफ़्तों तक चले प्रयास के विफल होने के बाद मतदान का निर्णय लिया गया था.

उखाड़ी कुर्सियाँ

इमेज कॉपीरइट Reuters

पत्रकारों द्वारा लिए गए वीडियो और तस्वीरों में कुछ विपक्षी सांसद कुर्सियाँ, टीवी स्क्रीन, कैमरा और माइक्रोफ़ोन उखाड़ते हुए दिखे. मध्यरात्रि के बाद हुई इस घटना में कुछ सांसद सभापति पर भी हमले का प्रयास करते दिखे.

शर्मा के अनुसार संविधान हाल के अंदर दर्जनों कुर्सियां, माइक्रोफ़ोन, टीवी स्क्रीन और कैमरे क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

संविधान सभा के सभापति और सत्ताधारी दल के नेताओं ने घटना की निंदा की है.

संविधान का संकट

नेपाल में माओवादियों के हिंसक विद्रोह के ख़त्म होने के बाद मई, 2008 में पहली संविधान सभा का निर्वाचन हुआ.

राजनीतिक विवादों की वजह से यह संविधान सभा मई, 2012 तक संविधान तैयार नहीं कर पाई.

इस राजनीतिक विफलता के बाद दूसरी संविधान सभा नवंबर 2013 में निर्वाचित हुई.

इसकी पहली बैठक 2014 के जनवरी में हुई थी और इसने कहा गया था कि 22 जनवरी 2015 तक संविधान तैयार करने का काम पूरा कर लिया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार