भिक्षु ने दी यूएन दूत को गालियां

  • 21 जनवरी 2015
बौद्ध भिक्षु इमेज कॉपीरइट EPA

म्यांमार के एक प्रमुख बौद्ध भिक्षु आसिन विराथु ने अल्पसंख्यक मुसलमानों की दशा का मुद्दा उठाने वाली संयुक्त राष्ट्र दूत के बारे में गालियों का इस्तेमाल किया है.

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र की दूत यांग ली के लिए बेहद बुरी शब्दावली का इस्तेमाल किया है और अब सरकार इसकी जांच कर रही है.

उग्र राष्ट्रवादी बौद्ध भिक्षु आसिन इससे पहले मुसलमानों के ख़िलाफ़ हिंसा भड़काने के दोष में 10 साल की जेल की सज़ा काट चुके हैं.

आसिन ने ये भी कहा, '' आपकी संयुक्त राष्ट्र में प्रतिष्ठा है, इसलिए आप अपने आप को बहुत प्रतिष्ठित व्यक्ति न समझ लें.''

आसिन अपने बयान पर कायम हैं और उन्होंने कहा है कि उगर उनके पास और बुरे शब्द होते तो वो वे उन्हें भी इस्तेमाल करते.

बयान की जांच

अपने फ़ेसबुक पेज पर बर्मा के सूचना मंत्री यू ए टुट ने कहा है,'' मैंने धार्मिक मामलों के मंत्रालय से पिछले हफ्ते हुए प्रदर्शन के दौरान आसिन विराथू की टिप्पणियों को देखने को कहा है.''

आसिन विराथू म्यांमार में 969 मूवमेंट के नाम से मशहूर राष्ट्रवादी आंदोलन के नेता हैं.

यह समूह देश के अल्पसंख्यक रोहिंग्या मुसलमानों पर प्रतिबंध लगाने और उनके बहिष्कार की मांग करता है.

कट्टरपंथी बौद्ध भिक्षुओं रोहंग्या मुसलमानों को बांग्लादेशी घुसपैठिए मानते हैं.

नेता नाराज़गी से बचते हैं

यांगून स्थित बीबीसी संवाददाता जॉन फिशर के मुताबिक़ म्यांमार में मानवाधिकार मामलों के संयुक्त राष्ट्र की दूत की दस दिवसीय यात्रा पिछले हफ्ते ख़त्म हुई.

यात्रा के दौरान उन्होंने म्यांमार से मुसलमानों के पलायन ख़ासकर देश के पश्चिमी हिस्से में रोहिंग्या मुसलमानों के साथ हो रहे सुनियोजित भेदभाव का मुद्दा उठाया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बर्मा का कोई नेता इन बौद्ध भिक्षुओं की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहता है

म्यांमार का कोई नेता इन बौद्ध भिक्षुओं की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहता है, इसलिए अभी तक कोई इस बौद्ध भिक्षु की आलोचना नहीं कर रहा है.

अपने फ़ेसबुक पेज़ पर सूचना मंत्री यू ए टुट ने कहा है, ''मेरा मानना है कि धार्मिक नेताओं को अपने भाषणों में प्यार, करुणा, सहानुभूति और नैतिकता का प्रदर्शन करना चाहिए.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार