कम खा लेंगे, लेकिन झुकेंगे नहीं: रूस

व्लादिमीर पुतिन इमेज कॉपीरइट AFP

रूसी उप प्रधानमंत्री ने यूक्रेन संकट को लेकर रूस पर दबाव डालने पर पश्चिमी देशों को चेतावनी दी है.

इगोर शुवालोव ने दावोस में विश्व आर्थिक फोरम में कहा कि प्रतिबंध रूसी राष्ट्रपति पुतिन के रुख़ को नहीं बदल सकते बल्कि इससे वो और मज़बूत ही होगा.

शुवालोव ने यह स्वीकार किया कि इन प्रतिबंधों का अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है. लेकिन इसके साथ ही उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि रूसी लोग किसी भी मुश्किल का सामना कर सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption रूस के उप प्रधानमंत्री ने कहा है कि पश्चिम के दबाव से पुतिन का विचार बदलेगा नहीं.

उन्होंने कहा, "हम बस थोड़ा कम खाएंगे."

बड़ा संकट

शुवालोक पुतिन सरकार के सबसे अमीर मंत्रियों में शामिल हैं.

समाचार एजेंसी एपी के अनुसार शुवालोव ने शुक्रवार को विश्व आर्थिक मंच पर एक बहस के दौरान कहा कि सात साल पहले, 2008-09 के वैश्विक संकट के चलते दो साल तक मुश्किल झेलने वाला रूस अब "ज़्यादा बड़े संकट में घिर रहा है."

रूस तेल के निर्यात में कमी आने और पश्चिमी देशों के प्रतिबंध के चलते पिछले साल से लगातार मंदी में शिकार होता जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार